बुलंदशहर, जेएनएन। बुलंदशहर जिले में एक परिवार द्वारा आर्थिक तंगी के चलते जीवन लीला खत्‍म करने की कोशिश करने मामला सामने आया है। देहात कोतवाली क्षेत्र के भूड़ चौराहे पर चाय बेचने वाले एक व्यक्ति ने सोमवार की रात को पहले खुद जहरीला पदार्थ खा लिया और इसके बाद पत्नी और बेटे को भी दे दिया। सुबह के समय पत्नी की मौत हो गई और व्यक्ति एवं उसका बेटा गंभीर है। जिन्हें जिला अस्पताल से मेरठ रेफर कर दिया है। परिवार के परिचितों का कहना है कि परिवार काफी समय से आर्थिक तंगी से गुजर रहा था। इसी कारण परिवार के मुखिया ने यह कदम उठाया है। चाय की दुकान से पेट भर खाना तक नहीं मिल रहा था।

कई सालों से थी चाय की दुकान

मूल रूप से देहात कोतवाली क्षेत्र के गांव काहिरा निवासी 55 वर्षीय बलबीर आर्थिक तंगी के चलते कई साल पहले बुलंदशहर के भूड़ चौराहे के समीप एक आटो एजेंसी के सामने आकर चाय की दुकान करने लगा था। गांव में कमाई का कोई जरिया नहीं होने के कारण वह अपनी 52 वर्षीय पत्नी रामवती को भी ले आया था। इसके अलावा 11 साल के बेटे दिन्नी उर्फ दीपक को भी ले आया था। दीपक भूड़ के समीप एक प्राइमरी स्कूल में पांचवीं क्लास में पढ़ता है।

बेटे ने बताया सारा मामला

देहात कोतवाली के एसएसआइ एवं कार्यवाहक थाना प्रभारी दलबीर सिंह ने बताया कि दीपक ने बयान दिया है कि सोमवार की रात करीब 12 बजे उसके पिता बलबीर ने पहले एक कैप्सूल खुद खाया और फिर उसकी मां को दिया। इसके बाद दीपक को भी एक कैप्सूल दिया। तीनों कैप्सूल खाने के बाद सो गए। सुबह जब काफी देर तक बलबीर ने चाय की दुकान नहीं खोली तो रेहड़ी व ठेलों वालों ने उसे आवाज लगाई। बेटा दीपक उठा तो वह उल्टियां करता हुआ बाहर आया। जिसके बाद उसने बताया कि उसके पिता व मां नहीं उठ रहे हैं। सूचना पर पुलिस पहुंची और तीनों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। जहां पर बलबीर की पत्नी रामवती की मौत हो गई। दीपक और उसके पिता बलबीर को मेरठ रेफर कर दिया। इस मामले में अभी कोई मुकदमा दर्ज नहीं हुआ है।

इनका कहना है

परिवार के मुखिया ने पहले खुद एक दवाई खाई। फिर पत्नी और बेटे को भी वहीं दवाई दी। तीनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया। पत्नी की मौत हो गई। पिता और बेटे को मेरठ रेफर किया गया है। यह कदम आर्थिक तंगी में उठाया है या नहीं। इसकी जांच चल रही है। मुखिया के होश में आने पर जानकारी की जाएगी।

- संतोष कुमार सिंह, एसएसपी

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021