मेरठ, जेएनएन। लगातार दूसरे दिन भी भाकियू के कार्यकर्ताओं ने मुजफ्फरनगर स्टेशन पर डेरा डाले रखा। इससे मेरठ से गुजरने वाली ट्रेनों पर इसका असर देखा गया। प्रयागराज से आने वाली नौचंदी एक्सप्रेस और हरिद्वार-अहमदाबाद के बीच चलने वाली योगा एक्सप्रेस को इलेक्ट्रिक इंजन से चलाया गया।
डीजल इंजन की ट्रेनों को रोक रहे
गुरुवार से मुजफ्फरनगर स्टेशन पर भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ता डीजल इंजन से चलने वाली ट्रेनों को रोक रहे हैं। जिससे रेलवे की व्यवस्था चौपट हो गई है। शुक्रवार को दिल्ली डिविजन डीआरएम आरएन सिंह को स्टेशनों के निरीक्षण के लिए मेरठ आना था लेकिन उनका कार्यक्रम भी रद करना पड़ा। भाकियू कार्यकर्ताओं का कहना है कि अगर हमें दस साल पुराने डीजल इंजन चलाने से रोका जा रहा है तो ट्रेनों को डीजल इंजन से क्यों चलाया जा रहा है।

रेलवे के सामने संकट
चार घंटे की देरी से प्रयागराज से चलकर वाया लखनऊ सुबह 11.22 बजे सिटी स्टेशन पहुंची नौचंदी एक्सप्रेस के डीजल इंजन को हटाकर इलेक्ट्रिक इंजन लगाया गया। इसके बाद ट्रेन को सहारनपुर रवाना किया गया। वहीं इसके अलावा अहमदाबाद से हरिद्वार की तरफ जाने वाली योगा एक्सप्रेस में भी इलेक्ट्रिक इंजन लगाकर आगे की तरफ रवाना किया गया और शाम के समय भी हरिद्वार से अहमदाबाद को चली योगा एक्सप्रेस को इलेक्ट्रिक इंजन से चलाया गया लेकिन ट्रेन सहारनपुर से मेरठ के बीच स्टेशनों पर रोक-रोककर चलाया गया।

Posted By: Ashu Singh