मेरठ,जेएनएन। सावन के दूसरा सोमवार को शिव भक्तों ने शिवालयों में जाकर भगवान आशुतोष का जलाभिषेक के साथ पूजा-अर्चना कर परिवार में सुख समृद्धि के लिये कामना की।

श्रावण मास के दूसरे सोमवार को शिवभक्तों ने व्रत रखा और सुबह शिवालयों में जाकर भगवान आशुतोष की जलाभिषेक के साथ विधि-विधान से पूजा अर्चना की। नगर के मेरठ रोड स्थित बड़ा महादेव मंदिर, पक्का तालाब के पास स्थित झारखंडी शिव मंदिर, पांडव चौक स्थित सिद्धपीठ हनुमान मंदिर, गुड़मंडी स्थित शिव मंदिर समेत सभी मंदिरों में सुबह से ही पूजा-अर्चना के लिए शिवभक्तों के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया था। भक्तों ने शिवलिंग पर जलार्पण कर भगवान आशुतोष की आराधना कर परिवार में सुख समृद्धि के लिये मन्नत मांगी।

महाभारतकालीन सिद्धपीठ प्राचीन फिरोजपुर मंदिर पर भी रही भीड़

रामराज के पास फिरोजपुर में स्थित महाभारतकालीन सिद्धपीठ मंदिर पर भी सावन के दूसरे सोमवार को जलाभिषेक के लिए भक्तों का तांता लगा रहा। शिवलिग पर जलाभिषेक कर भक्तों ने भगवान आशुतोष की पूजा अर्चना की। यहां पर शिवभक्तों द्वारा जलाभिषेक का सिलसिला दोपहर चला।

बेसहारा गोवंश गोशाला नहीं भेजे तो विहिप करेगी आंदोलन: विश्व हिदू परिषद के पदाधिकारी सोमवार को नगर पालिका पहुंचे और कार्यालय अधीक्षक लाखन सिंह को ईओ के नाम ज्ञापन सौंपा। उन्होंने सड़कों पर बेसहारा घूम रहे गोवंश को पकड़वाकर गोशाला नहीं भिजवाने पर तीन दिन बाद आंदोलन की चेतावनी दी।

जिलाध्यक्ष अमर रस्तोगी के नेतृत्व में दिये गए ज्ञापन में कहा गया है कि संगठन की ओर से पालिका में 28 जून को उक्त संबंध में एक पत्र देकर सड़कों पर घूम रहे गोवंश को पकड़वाकर गोशाला भिजवाने की मांग की गई थी, लेकिन एक माह बीतने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की गई है। ज्ञापन देने वालों में महेश आर्य, जिला सत्संग प्रमुख मुकेश शर्मा, अमित ढांका, बजरंग दल जिला संयोजक लाखन पोसवाल, रिकू गुप्ता, शिवांक आदि थे।

Edited By: Jagran