मेरठ,जागरण संवाददाता। शनिवार को मेरठ जिले में डेंगू का एक नया मरीज मिला है। अब तक डेंगू के 1642 मरीज मिल चुके हैं। इनमें शहरी क्षेत्र में सर्वाधिक 879 व ग्रामीण क्षेत्रों में 763 मरीज मिले हैं। मंडलीय सर्विलांस अधिकारी डा. अशोक तालियान ने बताया कि नया मरीज ग्रामीण क्षेत्र के खरखौदा में मिला है। खरखौदा में अब तक इस नए मरीज को मिलाकर 72 मरीज मिल चुके हैं। वहीं, अब जिले में डेंगू के 55 एक्टिव मरीज हैं। इनमें 12 मरीज विभिन्न अस्पतालों में भर्ती हैं और 43 मरीज घर पर रहकर अपना इलाज करा रहे हैं। अब तक 1587 मरीज रिकवर भी हो चुके हैं।

4361 सैंपलों की जांच में कोई संक्रमित नहीं

मेरठ : कोरोना संक्रमण से पहचान के लिए शनिवार को कुल 4361 सैंपलों की जांच हुई। जिसमें कोई भी संक्रमित नहीं मिला। मंडलीय सर्विलांस अधिकारी डा. अशोक तालियान ने बताया कि शुक्रवार को ही दो मरीजों के डिस्चार्ज होने पर जिला कोरोना मुक्त हो चुका है।

100 बेडों वाले ईएसआइ अस्पताल का नोटिफिकेशन जारी

मेरठ : मेरठ में लंबे समय से चली आ रही ईएसआइ अस्पताल का सपना पूरा हो गया। कंकरखेड़ा में 2.024 हेक्टेअर जमीन पर 100 बेडों का अस्पताल खोलने की संतुति हो गई। प्रदेश सरकार ने यह जमीन मुफ्त दी है। इससे औद्योगिक क्षेत्रों में कार्यरत श्रमिकों एवं अन्य के इलाज की बेहतर व्यवस्था हो जाएगी। पहले उन्हें सहारनपुर जाना पड़ता था। मेरठ-हापुड़ सांसद राजेंद्र अग्रवाल इएसआइ अस्पताल को लेकर लंबे समय से प्रयासरत थे। उन्होंने इसकी मांग संसद में उठाने के साथ ही प्रदेश सरकार के भी कई फोरम पर रखा। केंद्र सरकार से पिछले दिनों संतुति मिल गई। इसी कड़ी में शनिवार को केंद्रीय श्रम मंत्री भूपेंद्र यादव ने बाकायदा नोटिफिकेशन जारी कर दिया। मेरठ समेत देश के कई अन्य क्षेत्रों में भी इएसआइ अस्पताल खोले जाएंगे। सांसद राजेंद्र अग्रवाल ने बताया कि अस्पताल में आधुनिक चिकित्सा व्यवस्था उपलब्ध होगी। जल्द ही अस्पताल निर्माण पर कार्य शुरू कर दिया जाएगा। उन्होंने प्रदेश सरकार द्वारा तत्परता से जमीन उपलब्ध कराने के लिए आभार जताया। 

Edited By: Prem Dutt Bhatt