मेरठ,जेएनएन। बिल्डिंग मैटेरियल सप्लायर के अपहरण का मामला जातीय रूप लेता जा रहा है। बुधवार को व्यापारी के स्वजन ने व्यापारी की बरामदगी को लेकर कंकरखेड़ा थाने पर कई घटे तक प्रदर्शन किया। एसएसपी और एसपी सिटी ने थाने पहुंचे और नामजद आरोपित से कई घटे पूछताछ की। अधिकारियों पे पीड़ित पक्ष को जल्द ही व्यापारी की बरामदगी का भरोसा दिलाया।

मुजफ्फरनगर के सिसौली निवासी विशाल सागर कंकरखेड़ा में बिल्डिंग मैटेरियल का काम करता है व यहीं पर मकान किराए पर लेकर रहता है। मंगलवार को विशाल सागर का विवाद पड़ोस में बिल्डिंग मैटेरियल का काम करने वाले पवन सोम से हो गया था। पवन खेड़ा सरधना के रहने वाले हैं। विवाद के बाद विशाल सागर बाइक से दिल्ली रोड होते हुए निकल गया। विशाल ने अपने मौसी के बेटे अवनीश को वाइस मैसेज किया। अवनीश यातायात पुलिस में सिपाही है। मैसेज में विशाल ने बताया कि कार और बाइक सवार उसका पीछा कर रहे हैं। जिसके बाद शाम 9:15 बजे विशाल का फोन बंद हो गया और उसकी कोई लोकेशन नहीं मिली। विशाल के नहीं मिलने पर परिवार के लोगों ने पवन सोम के खिलाफ कंकरखेड़ा थाने में अपहरण का मुकदमा दर्ज करा दिया। पुलिस ने पवन सोम को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी। लगातार पूछताछ के बाद भी विशाल सागर के बारे में पवन सोम कोई जानकारी नहीं दे पा रहा। सीसीटीवी फुटेज में भी सामने आएगी विशाल अकेला ही बाइक पर सवार होकर रुड़की की तरफ जा रहा है। पल्लवपुरम थाना क्षेत्र के एसडी ग्लोबल अस्पताल की सीसीटीवी फुटेज तक विशाल अकेला ही दिल्ली रोड से गुजर रहा है। उसके बाद टोल तक विशाल नहीं पहुंचा। बीच में ही विशाल गायब हो गया है। इंस्पेक्टर कंकरखेड़ा तपेश्वर सागर ने बताया कि अभी तक विशाल सागर के अपहरण होने के कोई साक्ष्य नहीं मिले हैं। सीसीटीवी फुटेज में विशाल खुद ही अपनी मर्जी से जाता हुआ दिखाई दे रहा है। उधर बुधवार को विशाल की बरामदगी को लेकर उसके परिवार के लोगों ने थाने पर जमकर हंगामा किया। विशाल जाट बिरादरी से जुड़ा है, जबकि आरोपित पवन सोम ठाकुर बिरादरी से जुड़ा है। इसलिए मामला जातीय रूप ले चुका है, जिसे लेकर अफसर भी अलर्ट हो गए हैं। एसएसपी प्रभाकर चौधरी और एसपी सिटी विनीत भटनागर ने थाने पहुंचकर पवन से कई घटे तक पूछताछ की, लेकिन उसने विशाल सागर के बारे में कोई जानकारी नहीं दी। पुलिस अब सíवलास और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर विशाल सागर की तलाश कर रही है। एसएससी प्रभाकर चौधरी ने धरना दे रहे लोगों को भरोसा दिलाया कि जल्द ही पुलिस विशाल की को बरामद कर लेगी। उसके बाद लोग थाने से वापस लौट गए। इन्होंने कहा-

विशाल सागर के अपहरण मामले में क्राइम ब्राच की टीम को भी लगा दिया है। तीन टीमें बनाकर अलग-अलग लाइनों पर काम कर रही है। पुलिस जल्द ही विशाल सागर को बरामद कर लेगी।

प्रभाकर चौधरी, एसएसपी

Edited By: Jagran