मेरठ, जेएनएन। खरखोदा थाना क्षेत्र के एक गांव में बच्‍ची से दुष्‍कर्म मामले में आरोपित महिला को पंचायत ने गांव से बाहर निकालने का फरमान सुना दिया। पुलिस ने महिला समेत चार लोगों को हिरासत में ले लिया है।

ये था मामला

शनिवार शाम 12 वर्षीय बच्ची को गांव की एक महिला 10 रुपये का लालच देकर जंगल में ले गई थी। वहां महिला के बुलावे पर दो युवकों ने बच्ची के साथ दुष्कर्म किया। बच्ची के पिता ने आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा दिया। हालांकि पुलिस का दावा हे कि मेडिकल में दुष्कर्म की पुष्टि नहीं हुई है।

पंचायत ने लगाया चरित्रहीनता का आरोप

रविवार को इस प्रकरण को लेकर गांव में पंचायत बैठ गई। पंचायत में आरोपित महिला पर चरित्रहीनता का आरोप लगाकर उसे गांव से निकालने का फरमान सुना दिया गया। लोगों का कहना है कि अभी पंचायत चल ही रही थी कि महिला अपने परिवार के साथ घर से निकलने लगी। इसी बीच कुछ लोग वहां पहुंच गए और महिला को पकड़ लिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने महिला उसके परिजन समेत पीड़ित पक्ष के भी कुछ लोगों को हिरासत में ले लिया।

इन्‍होंने बताया

इंस्पेक्टर मनीष बिष्ट का कहना है कि गांव में कोई पंचायत नहीं हुई है। उन्होंने किसी को हिरासत में नहीं लिया है। दोनों पक्षों के लोगों को बुलाकर पूछताछ की जा रही है। 

Posted By: Taruna Tayal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप