जागरण संवाददाता, मेरठ। डेंगू का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है। गुरुवार को आठ नए मरीज मिले, जिससे जिले में मिलने वाले मरीजों की कुल संख्या 142 तक पहुंच गई। शहर के दर्जनों क्षेत्रों में लार्वा मिलने से डेंगू संक्रमण का खतरा बढ़ता जा रहा है। गांवों में डेंगू के बढ़ते प्रकोप की रोकथाम के लिए बड़े स्तर पर अभियान शुरू किया गया है। खुद अधिकारी गांव-गांव जाकर डेंगू के मरीजों का हाल जान रहे हैं, साथ ही अभियान की जांच भी की जा रही है। ऐसे में 33 गांव जांच में फेल साबित हुए हैं। इससे नाराज डीपीआरओ ने 10 ग्राम पंचायत सचिवों को नोटिस जारी कर एक के निलंबन की प्रक्रिया पूरी कर दी है।

शासन से जारी निर्देशों के बाद गांव-गांव में विशेष सफाई अभियान चलाने के साथ एंटी लार्वा व कीटनाशक की फा¨गग कराने के लिए अभियान शुरू किया गया है। अभियान की स्थिति की जांच व डेंगू के मरीजों का हाल जानने के लिए खुद अधिकारी गांव-गांव पहुंच रहे है। जिला पंचायतराज अधिकारी ने रोहटा विकास खंड के गांव पूठ, भोला झाल, पैपला आदि गांवों की जांच की। जांच में सामने आया कि इन गांवों के साथ अभी तक 33 गांवों में साफ-सफाई व फा¨गग के लिए कोई अभियान शुरू ही नहीं किया जा सका है। जिस कारण यहां गंदगी और मच्छरों का बोलबाला है। लापरवाही सामने आने पर संबंधित ग्राम पंचायत सचिवों को नोटिस जारी करने के साथ एक के निलंबन की कार्रवाई पूरी कर ली गई है।

गांवों पर है पूरा ध्यान: अभी तक सामने आए अधिकांश डेंगू के रोगी ग्रामीण क्षेत्रों में ही हैं। ऐसे में गांवों को रोग से बचाने के लिए हर स्तर पर निगरानी की जा रही है। अधिकारी खुद हर दिन की गई फा¨गग, सफाई अभियान व गांव में मिले डेंगू के रोगियों की स्थिति को लेकर भी रिपोर्ट तैयार कर रहे हैं।

डीपीआरओ रेनू श्रीवास्तव ने कहा कि गांवों में बड़े स्तर पर फा¨गग व सफाई के लिए अभियान शुरू किया है। अभी जांच में 33 गांवों में लापरवाही सामने आई है। नोटिस जारी करने के साथ एक सचिव को निलंबित किया जाएगा।

डेंगू के आठ नए मरीज

सीएमओ डा. अखिलेश मोहन ने बताया कि जिला मलेरिया विभाग एवं नगर निगम लगातार एंटी लार्वा फा¨गग कर रहा है। लेकिन सैनिक विहार एवं फाजलपुर समेत कई क्षेत्रों में नए केस भी मिल रहे हैं। घर-घर सर्वे के तहत 50 से ज्यादा डेंगू मरीज खोजे गए। मेडिकल कालेज की माइक्रोबायोलोजी लैब डेंगू, स्क्रब टायफस एवं लेप्टोस्पायरा की जांच कर रही है। मंडलीय सर्विलांस अधिकारी डा. अशोक तालियान ने बताया कि शहरी क्षेत्र में 91, वहीं ग्रामीण क्षेत्र में कुल 43 डेंगू मरीज मिले हैं। जिला मलेरिया अधिकारी सत्यप्रकाश ने बताया कि आधा दर्जन क्षेत्रों में नए मरीज मिलने की वजह से विभाग का ध्यान संक्रमण का स्रोत खत्म करने पर है। निजी लैबों को एलाइजा विधि से डेंगू टेस्ट करने के लिए कहा गया है। 

Edited By: Himanshu Dwivedi