मेरठ। हथियारबंद बदमाशों ने शुक्रवार देर रात डेयरी पर धावा बोल दिया। संचालक को बंधक बनाकर जमकर पीटा। उसे मरा समझकर दो भैंस लूटकर फरार हो गए। शिकायत के बावजूद पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज की और ना ही पीड़ित का मेडिकल परीक्षण कराया।

टीपीनगर थाना क्षेत्र के भोला रोड पर नीलकंठ वाटिका में प्रमोद त्यागी परिवार के साथ रहते हैं। उन्होंने बताया कि रिश्तेदारों से कर्ज लेकर उन्होंने दो भैंस खरीदी थी। शुक्रवार रात तीन बदमाश दीवार कूदकर अंदर घुस गए। उन्होंने विरोध किया तो बदमाशों ने उनके हाथ बांध दिए और मुहं में कपड़ा ठूंस दिया। उन्हें तब तक पीटा, जब तक वह बेहोश नहीं हो गए। इसके बाद दो भैंस लूटकर फरार हो गए। सुबह स्वजन डेयरी पर पहुंचे तो पता चला। स्वजनों ने थाने में शिकायत की। आरोप है कि दो दिन बाद भी रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई है। थाना प्रभारी विजय गुप्ता ने बताया कि मामला लेनदेन का लग रहा है। जांच के बाद रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

खुद तलाश कर लो, फिर बता देना : प्रमोद त्यागी ने बताया कि उनके प्लाट में काम भी चल रहा है। शनिवार को शिकायत के बाद थाने से एक दारोगा आए थे। उन्होंने पहले तो मजदूरों पर शक जताया। इसके बाद कहा कि आसपास की पशु पैंठ में जाकर तलाश कर लो। पता चल जाए तो बता देना। वह रविवार को थाने पहुंचे तो सीओ के आने की बात कही, लेकिन कोई नहीं आया।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस