सहारनपुर, जागरण संवाददाता। जनकपुरी थाना पुलिस ने हनीट्रैप गिरोह चलाने वाले एक दंपती को गिरफ्तार किया है। यह दंपती हनीट्रैप में लोगों को फंसाता था और रुपए वसूलता था। शहर के ही एक युवक ने इनके खिलाफ जनकपुरी थाने में मुकदमा दर्ज कराया था। जिसके बाद जनकपुरी पुलिस ने बुधवार को पति-पत्नी को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है। आरोपित दंपती देहरादून और सहारनपुर के कई लोगों से ब्लैकमेलिंग कर लाखों रुपये ले चुका था।

यह है मामला

पुलिस लाइन के सभागार में प्रेसवार्ता के दौरान एसपी सिटी राजेश कुमार ने बताया कि शहर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला किशनपुरा निवासी मुकेश ने जनकपुरी थाने में मुकदमा दर्ज कराया था कि उससे अमरीक पुत्र सुरेंद्र सिंह निवासी गोपालनगर शहर कोतवाली ने 50 हजार रुपये उधार लिए थे। आरोप है कि जब उसने अमरीक से रुपये वापस मांगे तो उसने मुकेश को अपने घर बुलाया। यहां पर अमरीक की पत्नी दीपा ने मुकेश के साथ अश्लील हरकतें करनी शुरू कर दी। इसी दौरान मुकेश की अश्लील वीडियो बना ली गई। इसके बाद अमरीक ने मुकेश को ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया। मुकेश ने डर के मारे डेढ़ लाख रुपये अमरीक को और दे दिए। इसके बाद भी अमरीक पैसे की मांग कर रहा था।

इनका कहना है...

जनकपुरी थाना प्रभारी अविनाश गौतम ने बताया कि दोनों वर्तमान में उत्तराखंड के देहरादून के गांव सहिया थाना कालसी में किराए के मकान में रह रहे थे। दोनों को वहीं से गिरफ्तार किया गया है। एसपी सिटी राजेश कुमार का कहना है कि आरोपितों ने देहरादून और सहारनपुर के कई लोगों को हनीट्रैप में फंसाकर लाखों रुपये लिए हैं। कई लोग हैं जो सामने नहीं आए हैं।

Edited By: Taruna Tayal

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट