मेरठ,जेएनएन। नगर निगम टीम ने शुक्रवार को कासमपुर पहाड़ी स्थित खसरा संख्या 136 में 1150 वर्ग मीटर जमीन को कब्जा मुक्त कराया।

नगर आयुक्त मनीष बंसल के निर्देश पर नगर निगम से लेखपाल राजकुमार प्रवर्तन दल की टीम सेवानिवृत्त लेफ्टिनेंट शक्ति सिंह मलिक के नेतृत्व में सुबह 11 बजे कासमपुर पहाड़ी पहुंची। वहां पप्पी मारवाड़ी ने खसरा संख्या 136 में लगभग 1150 वर्ग मीटर भूमि पर कब्जा किया हुआ था। विरोध के बावजूद उक्त भूमि को कब्जा मुक्त करने के साथ उस पर पिलर निर्माण की प्रक्रिया शुरू की गई। निर्माण कार्य शनिवार दोपहर तक संपन्न कर लिया जाएगा। अभियान के दौरान प्रवर्तन दल की टीम में सेवानिवृत्त लेफ्टिनेंट प्रवीण कुमार, हवलदार मुनेंद्र कुमार, जितेंद्र तोमर, धीरज कुमार तथा यशपाल सिंह आदि शामिल रहे। वहीं, ग्राम लखवाया स्थित तालाब की भूमि से कब्जा हटवाया गया। इस दौरान तहसील की टीम भी मौजूद रही। लखवाया में 6250 वर्ग मीटर क्षेत्रफल में तालाब है, जिसके 400 वर्ग मीटर भूमि पर कब्जा किया गया था।

प्रतिबंधित पालीथिन पकड़ी, 10,000 जुर्माना

उधर, नगर निगम प्रवर्तन दल की टीम ने सेवानिवृत्त लेफ्टिनेंट जसवंत तोमर के नेतृत्व में राजस्व निरीक्षक राजीव चौधरी के साथ मिलकर जाकिर कालोनी, कबाड़ी बाजार और लिसाड़ी रोड पर प्रतिबंधित प्लास्टिक के खिलाफ अभियान चलाया। अभियान के दौरान 12 किलो प्रतिबंधित पालीथिन जप्त की गई। वहीं, नौ दुकानदारों के चालान भी काटे गए और उनसे 10000 जुर्माना वसूला गया। खरदौनी के पांच कोल्हुओं पर 25-25 हजार का जुर्माना: क्षेत्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की टीम ने दूषित ईंधन जलाने को लेकर इंचौली क्षेत्र के गांव खरदौनी में स्थित पांच कोल्हू पर 25-25 हजार रुपये का जुर्माना लगाने की संस्तुति रिपोर्ट लखनऊ मुख्यालय को भेज दी है। पांचों कोल्हुओं पर दूषित ईंधन जलाया जा रहा था, जिस वजह से आसपास के क्षेत्र में काला धुआं दूर तक हवा के साथ फैल रहा था।

इंचौली थाना क्षेत्र के गांव खरदौनी और आसपास जंगल में एक दर्जन से अधिक कोल्हू संचालित हैं। हर वर्ष इन कोल्हू पर क्षेत्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की टीम दूषित ईंधन जलाने के आरोप में कार्रवाई करती है, मगर कोल्हू संचालक सुधरने को तैयार नहीं है। गुरुवार को मोदीपुरम स्थित क्षेत्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की टीम ने खरदौनी क्षेत्र में संचालित कोल्हू का गोपनीय तरीके से जांच पड़ताल की, जिसमें पाया गया कि पांचों कोल्हू में दूषित ईंधन जैसे-प्लास्टिक, कपड़ा, पालीथिन, टायर आदि जलाकर गुढ़ बनाया जा रहा था। शुक्रवार को टीम मौके पर पहुंची, जहां एक के बाद एक पांचों कोल्हू पर टीम ने वीडियोग्राफी कर जलता हुआ दूषित ईंधन बरामद किया। कोल्हू का संचालन बंद कर दिया गया है।

नगर निगम क्षेत्र में जलता मिला कूड़ा

टीम को नगर निगम क्षेत्र हापुड़ रोड और दिल्ली रोड पर शुक्रवार को दो जगह कूड़ा जलता हुआ मिला। टीम ने फोटो खींचे और रिपोर्ट तैयार कर पत्र के साथ नगर निगम को भेज दी है। ताकि निगम कूड़े के ढेर में आग लगाने वालों पर कार्रवाई कर सके।

इनका कहना है..

खरदौनी क्षेत्र में पांच कोल्हुओं पर जुर्माना राशि तय कर रिपोर्ट मुख्यालय भेज दी है। दो जगहों पर कूड़ा जलाने के प्रकरण में नगर निगम को भी रिपोर्ट के साथ पत्र लिखा गया है। वायु प्रदूषण फैलाने वालों पर सख्त कार्रवाई होगी।

- डा. योगेंद्र कुमार, क्षेत्रीय अधिकारी-क्षेत्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड।

Edited By: Jagran