मेरठ, जेएनएन। कोरोना से जंग जीतने की तैयारी शुरू हो गई है। पहले दिन कोरोना का टीका लगवाने को स्‍वास्‍थ्‍य कर्मी उत्‍साह से आगे आए। और कोरोना वैक्‍सीन पर भ्रम को दूर करने का प्रयास  किया। वैक्‍सीन लगवाकर उन्‍होंने अपने अनुभवों को साझा किया। उत्‍तर प्रदेश के पश्चिमी जिलों में कोरोना टीका लगाने की प्रक्रिया पहले दिन जोर-शोर से चल रही है। वेस्‍ट यूपी के मेरठ, मुजफ्फरनगर, सहारनपुर, शामली, बुलंदशहर व बागपत में कोरोना के कई केंद्रों पर टीकाकरण हुआ। मेरठ में जहां सात केंद्रों पर टीका लग रहा है वहीं आसपास के जिलों में कहीं चार तो कहीं पांच और छह केंद्र टीकाकरण के लिए बनाए गए हैं। आइए विस्‍तार से जानते हैं कि आपके जिले में किसको कोरोना का पहला टीका लगाया गया। 

मेरठ में प्राचार्य को पहला टीका

जनपद में कोरोना टीका लगाने के लिए सात केंद्र बनाए गए हैं। इन केंद्रों पर कोरोना का टीका गुरूवार को सुरक्षित पहुंचाया गया था। शनिवार को कोरोना का टीका लगाने से पहले सभी केंद्रों की जांच की गई। इसके बाद कोरोना का टीका लगाने की प्रक्रिया का सुभारंभ किया गया। मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ ज्ञानेंद्र सिंह को पहला टीका लगाया गया। इनको सांसद राजेंद्र अग्रवाल ने उन्हें शुभकामनाएं दीं। प्राचार्य को टीका लगाने के बाद वेटिंग रूम में भेज दिया गया। वहां उन्‍होंने डाक्‍टरों से अपने अनुभव साझा किए। वहीं मेरठ के सीएचसी मवाना में सुबह 10 बजकर 51 मिनट पर पहली वैक्सीन की .5 मिलीलीटर की खुराक फार्मेसिस्ट विपिन कुमार को बाय कंधे पर लगी। उसके बाद उन्हें आब्जर्वर रूम में भेज दिया। इसके बाद क्रमवार टीका लगने का काम शुरू हो गया।

मुजफ्फरनगर में पहला टीका इनको लगा

जनपद में कोरोना का प्रथम टीका हेल्थ सुपरवाइजर योगेश त्यागी को लगाया गया। इन्हें मखिया ली स्थित मेघा खेड़ी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर टीका लगाया गया। टीकाकरण उद्घाटन पर डीएम एसएसपी व सीएमओ मौजूद रहे। वहीं खतौली सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर सर्वप्रथम टीका डॉक्टर राकेश बंसल को लगाया गया है। डॉ राकेश बंसल पूर्व मंसूरपुर में तैनात थे। वर्तमान में उनकी ड्यूटी मुजफ्फरनगर जिला मुख्यालय पर चल रही है।

सहारनपुर में टीकाकरण शुरू, पहला टीका सीएमओ ने लगवाया

कोरोना को हराने के लिए जिले में शनिवार की सुबह 10 बजे टीकाकरण अभियान शुरू कर दिया गया था। जिले के पांच केंद्रों पर यह अभियान चल रहा है। पहला टीका सीएमओ डॉ बीएस सोढ़ी ने लगवाया। इसके बाद स्वास्थ्य कर्मचारियों को टीका लगाया गया। बता दें कि पहले जिले में टीकाकरण के लिए 11 केंद्र बनाए गए थे। लेकिन किसी कारणवश छह केंद्रों को हटा दिया गया और अब पांच केंद्रों पर टीकाकरण अभियान चल रहा है। सीएमओ जिलाधिकारी अखिलेश कुमार सिंह और एसएसपी डॉ एस चन्नपा सभी केंद्रों का भ्रमण कर रहे हैं। पहले चरण में 13730 स्वास्थ्य कर्मचारियों को टीका लगना है। हालांकि अभी यह नहीं पता कि यह अभियान पहले चरण वाला कितने दिन चलेगा।

बिजनौर में पहला टीकाकरण इनको लगाया गया

जिले में डीएम और सीएमओ की निगरानी में कोरोना का पहला टीका वार्ड ब्‍याय रतिराम सैनी को लगाया गया। इनकी उम्र 57 साल की है। जिला अस्‍पताल समेत चार केंद्रों पर कोरोना का टीका लग रहा है। इस क्रम में कुल 400 लोगों को टीका लगाया जाएगा। अभी टीकाकरण की प्रक्रिया जारी है।

बागपत में तीन केंद्रों पर टीकाकरण

शनिवार को जिला अस्पताल, सीएचसी बड़ौत व पिलाना में कोविड-19 का टीकाकरण शुरू हो गया। प्रत्येक केन्द्र पर 100 स्वास्थ्य कर्मियों यानि 300 कर्मियों का टीकाकरण होना। जिला अस्पताल में डीएम शकुंतला गौतम, एसपी अभिषेक सिंह, सीएमओ डा. आरके टंडन आदि अधिकारियों ने हालत का जायजा लिया। जिला अस्पताल में स्वास्थ्यकर्मी वीर सिंह को सबसे पहले टीका लगाया गया। वीर सिंह जिला अस्पताल में तैनात है। इसके अलावा अन्य स्वास्थ्यकर्मियों में भी उत्साह देखा गया। सुबह से ही जिला अस्पताल में स्वास्थ्यकर्मी टीकाकरण कराने के लिए पहुंचने शुरू हो गए थे। डीएम ने बताया कि स्वास्थ्यकर्मियों का टीकाकरण सभी सावधानी बरते हुए किया जा रहा है। वहीं सीएससी बड़ौत पर कोविड-19 का पहला टीका उदयवीर मलिक हेल्थ सुपरवाइजर को लगाया गया।

शामली में इनकों लगा पहला टीका

शामली में तीन बूथ पर कोरोना टीकाकरण शुरू हुआ। जिला संयुक्त अस्पताल में सबसे पहले सुबह 10.21 बजे वार्ड ब्वाय ओमपाल को टीका लगाया गया है। ओम पाल की तैनाती सीएमओ कार्यालय में है। कैराना और कुडाना सीएचसी के बूथ पर भी टीकाकरण शुरू हो हुआ। सभी स्थानों पर पुलिसकर्मी तैनात हैं।

बुलंदशहर में चार केंद्रों पर 400 लोगों को लगना था टीका, इनको लगा पहला टीका 

जिले में बीबीनगर, डिबाई, खुर्जा और जिला अस्पताल में टीकाकरण शुरू हुआ। चारों केंद्रों पर शुभारंभ के दिन कुल 400 स्वास्थ्य कर्मियों को टीके लगाए गए। इसके साथ ही दिल्ली में प्रधानमंत्री मोदी के शुभारंभ कार्यक्रम का एलईडी पर सीधा प्रसारण भी चारों केंद्रों पर दिखाया जा रहा है। जिला अस्पताल के टीकाकरण केंद्र पर सबसे पहला टीका क्वालिटी मैनेजर अनुराग शर्मा को लगाया गया। बीबीनगर सीएचसी के केंद्र पर सबसे पहला टीका वार्ड ब्वाय महेश को लगाया गया।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021