शामली, जेएनएन। स्वास्थ्य विभाग की ओर से कोविड चिकित्सालय में सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त होने का दावा किया जाता है, लेकिन मरीजों को पीने के पानी तक का संकट है। मरीजों ने इस समस्या को उठाते हुए वीडियो बनाकर इंटरनेट मीडिया पर वायरल कर दी। जिलाधिकारी ने संज्ञान लेते हुए पानी के कैंपर की व्यवस्था करा दी है।

यह है पूरा मामला: मंगलवार सुबह इंटरनेट मीडिया पर कोविड अस्पताल के तीन वीडियो वायरल हुए। एक वीडियो में भर्ती कई मरीज बता रहे हैं कि ठंडा-गर्म किसी प्रकार का पानी पीने के लिए नहीं है। उन्हें बाथरूम की टोंटी से पानी लाकर प्यास बुझानी पड़ रही है। दूसरी वीडियो में मशीन को दिखाया गया है, जिसमें पानी नहीं आ रहा है और तीसरी वीडियो में बाथरूम से बोतल में पानी भरते हुए दिखाया गया है। कुछ मरीज यह भी कह रहे हैं कि गीजर से गर्म पानी लेकर पी रहे हैं। बाथरूम की गंदगी भी दिख रही है व सैनिटाइजर मशीन भी खराब होना बताया गया है। मंगलवार को वीडियो वायरल होने के बाद पानी का प्रबंध तो करा दिया गया, लेकिन सोमवार दोपहर से लेकर मंगलवार सुबह तक तो मरीजों को पानी के लिए परेशान होना ही पड़ा। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. संजय अग्रवाल ने बताया ठंडा, गर्म और सादे पानी के लिए मशीन है, लेकिन सोमवार को वह खराब हो गई थी। मशीन ठीक होने में थोड़ा वक्त लगेगा। इसलिए कैंपर की व्यवस्था करा दी है।

ऑक्सीजन नहीं मिलने से सीएचसी पर व्यापारी ने तोड़ा दम

यह भी पढ़ें: बुलंदशहर में दर्दनाक हादसा : ट्रक और वैन की जोरदार टक्‍कर में चार प्रवासी मजदूरों की मौत, दो गंभीर घायल

पोस्ट भी वायरल: भर्ती एक संक्रमित ने पोस्ट भी वायरल की है। लिखा है कि उनमें किसी प्रकार लक्षण नहीं था, लेकिन उन्हें जबरदस्ती भर्ती किया गया। उनके साथ भर्ती कई मरीजों में अधिक लक्षण हैं। ऐसे में उन्हें खतरा है। मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा. सफल कुमार का कहना है कि शासन की गाइडलाइन के अनुसार ही संक्रमितों को भर्ती किया जाता है। संक्रमितों को एक-दूसरे से कोई खतरा नहीं होता है। 46 मरीज भर्ती हैं।

यह भी पढ़ें: मेरठ में सैन्य क्षेत्र के फैमिली क्वार्टर को बम से उड़ाने की धमकी, मिले पत्र से मचा हड़कंप Meerut News

जिलाधिकारी जसजीत कौर ने कहा- पेयजल की मशीन सोमवार को खराब हो गई थी। फौरी तौर पर मुख्य चिकित्सा अधीक्षक ने पानी के कैंपरों की व्यवस्था की है। मशीन ठीक करने के लिए संबंधित कंपनी के मैकेनिक जल्द आ जाएंगे। साथ ही कोविड अस्पताल में स्टाफ भी बढ़ाया जा रहा है, जिससे भर्ती मरीजों को कोई दिक्कत न हो। 

यह भी पढ़ें: बुलंदशहर में नकली शराब पीने से दो की मौत- एक की हालत गंभीर, डीएम समेत कई अफसर मौके पर पहुंचे

Edited By: Himanshu Dwivedi