मेरठ, जेएनएन। पांचली खुर्द गांव में कुत्ते के काटने को लेकर सांप्रदायिक तनाव है। कुत्ते को दूसरे समुदाय के लोगों ने पीटकर मार डाला। उसके बाद भी पुलिस ने मामले की रिपोर्ट तक दर्ज नहीं की। पीड़ित परिवार ने गांव से पलायन की धमकी दी है। उनका कहना है कि गांव छोड़कर बंगलुरु शिफ्ट हो जाएगे।

जानी के गांव पांचली खुर्द निवासी रामचरित्र बंगलुरु में ठेकेदारी करते हैं। उनका परिवार पांचली खुर्द में रहता है। रामचरित्र की बेटी दीपा ने बताया कि 14 फरवरी को पड़ोस में रहने वाले शब्बीर के पौते को कुत्ते ने काट लिया था। शब्बीर का आरोप था कि राम चरित्र के परिवार ने उन्हें कुत्ते के कटवाया है। आठ मार्च को मौका पाकर शब्बीर के परिवार ने रामचरित्र के पालतु कुत्ते को पीट-पीटकर मार दिया।

पीड़ित परिवार ने मामले की तहरीर जानी थाने में दी, लेकिन उसके बाद भी कुत्ते की हत्या का मुकदमा दर्ज नहीं हुआ। पीड़ित परिवार का कहना है कि आरोपित शब्बीर के परिवार पर कार्रवाई के लिए एसएसपी से भी मिल चुके हैं। तब भी आरोपित पक्ष पर कोई कार्रवाई तक नहीं की गई। रामचरित्र के परिवार का कहना है कि विशेष समुदाय के लोग ज्यादा होने के कारण अक्सर परेशान करते रहते हैं। पुलिस भी उनके दबाव में रहती है। उन्होंने ऐलान किया कि यदि पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर शब्बीर के परिवार की गिरफ्तारी नहीं की तो गांव से पलायन कर जाएंगे।

रामचरित्र के परिवार की कर चुके पिटाई

रामचरित्र की बेटी दीपा का कहना है कि शब्बीर का परिवार उनकी पिटाई भी कर चुका है। घर पर मां और एक बहन के साथ रहती हैं, इसलिए शब्बीर का परिवार अक्सर मारपीट करता रहता है। उनके पिता बंगलुरु में रहते हैं। एसएसपी अजय साहनी ने बताया कि सीओ सरधना से पीड़िता की शिकायत पर जांच कराई जाएगी। जांच रिपोर्ट के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Prem Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस