बागपत, जागरण संवाददाता। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि उत्‍तर प्रदेश कोरोना की दूसरी लहर पर नियंत्रण करने में देश दुनिया में सबसे आगे रहा है। गुरुवार को बागपत पहुंचे सीएम योगी ने लोगों को कोरोना की तीसरी लहर के प्रति आगाह करते हुए लापरवाही न बरतने की अपील की। उन्‍होंने जिला अस्पताल और एक गांव का निरीक्षण करने के बाद कोरोना से बेसहारा हुए पांच बच्चों से मुलाकात भी की। ढाई घंटे के कार्यक्रम में योगी ने अफसरों को विकास का पाठ पढ़ाया और भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं को विधानसभा चुनाव में जीत का मंत्र दिया। योगी ने पिछले सात वर्ष में हुए विकास कार्यों को लेकर आज के बागपत की तुलना इंद्रप्रस्थ से की।

सुबह पौने 11 बजे हेलीकाप्टर से पुलिस लाइन पहुंचे योगी ने जिला अस्पताल व सिसाना गांव का निरीक्षण करने के बाद कलक्ट्रेट सभागार में अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक की। दोपहर करीब पौने दो बजे मीडिया से मुखातिब मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर में जनप्रतिनिधियों, जिला प्रशासन, हेल्थ वर्करों व कोरोना वारियर्स ने जनता जर्नादन के साथ मिलकर बहुत अच्छा काम किया। इसका परिणाम भी दिखाई दे रहा है।

सबसे ज्यादा आबादी वाला उत्तर प्रदेश कोरोना जैसी महामारी को नियंत्रित करने में देश व दुनिया में अग्रणी रहा। मुख्यमंत्री ने जिले में पिछले सात साल में हुए विकास कार्यों का जिक्र करते हुए कहा कि बागपत का नाम तो था, काम नहीं था। याद करिए, पांच हजार साल पहले बागपत सामान्य गांव था। महाभारत के दौरान भगवान श्रीकृष्ण द्वारा पांडवों की ओर से मांगे गए पांच गांवों में एक गांव बागपत था। आज जनपद के रूप में बागपत ने केंद्र के पिछले सात और प्रदेश के साढ़े चार वर्ष के कार्यकाल के दौरान वो स्थान प्राप्त किया है कि आज इंद्रप्रस्थ भी मात खा रहा है। जनप्रतिनिधियों ने पिछले सात वर्ष में बागपत में जो विकास कार्य केंद्र व प्रदेश सरकार की योजनाओं से कराए हैं, वह अद्भुत है।

आज बागपत का युवा सरकारी नौकरियों में अच्छा स्थान बना रहा है। पहले सड़कों पर दौड़ लगाकर प्रैक्टिस करने वाले बागपत के युवाओं को नौकरी नहीं मिलती थी। अब सूबे में एक लाख 35 हजार लोगों की पुलिस भर्ती में बागपत के हर गांव का नौजवान शामिल है। मुख्यमंत्री ने कहा कि बागपत में दिसंबर से मेडिकल कालेज का निर्माण शुरू हो जाएगा। योगी ने जिले में दिल्ली-सहारनपुर और बागपत-मेरठ नेशनल हाईवे का निर्माण होने, केंद्रीय विद्यालय खुलने और रमाला शुगर मिल का विस्तार आदि विकास कार्यों से किसानों व आमजन को मिलने वाले लाभ भी गिनाए।

देखा आक्‍सीजन प्‍लांट, बेसहारा बच्‍चों से मुलाकात

मुख्‍यमंत्री ने जिला अस्पताल में पीकू सेंटर, महिला अस्पताल और निर्माणाधीन आक्सीजन प्लांट का निरीक्षण किया। कोरोना की तीसरी लहर से लड़ने की तैयारियों का जायजा लेने के क्रम में मुख्यमंत्री ने चिकित्सकों से भी बात की। टीकाकरण भी देखा। इसके बाद सिसाना गांव पहुंचकर कोरोना से बेसहारा हुए पांच बच्चों से मुलाकात की। मुख्‍यमंत्री ने उन्हें 11-11 हजार की एफडी, दो जोड़ी कपड़े, चाकलेट और स्कूल बैग देते हुए हरसंभव मदद का भरोसा दिया। स्कूल के निरीक्षण के दौरान शिक्षिकाओं से बच्चों की पढ़ाई के बारे में पूछा। सरकारी योजनाओं की लाभार्थी महिलाओं से बात की और उन्हें प्रमाण पत्र दिए।

कहा, करें हर बूथ को मजबूत

मुख्यमंत्री ने सांसद डा. सत्यपाल सिंह, विधायक योगेश धामा, केपी मलिक, सहेन्द्र सिंह, पश्चिम क्षेत्रीय अध्यक्ष मोहित बेनीवाल, जिला प्रभारी बिजेंद्र कश्यप, जिलाध्यक्ष सूरजपाल सिंह समेत अन्य पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं के साथ बात की। आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारी करते हुए हर बूथ को मजबूत करने के लिए कहा। योगी ने जनप्रतिनिधियों व पार्टी पदाधिकारियों से मिलकर काम करने की अपील की। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों के साथ 50 लाख रुपये से लेकर 50 करोड़ से अधिक की योजनाओं की समीक्षा की। कमिश्नर सुरेन्द्र सिंह और डीएम राजकमल यादव ने सभी योजनाओं की प्रगति से मुख्यमंत्री को अवगत कराया।

Edited By: Himanshu Dwivedi