मेरठ, जेएनएन। मलियाना पुल के पास स्थित चंद्रलोक कॉलोनी में सोमवार को नगर निगम की टीम पहुंची जिसके बाद साफ-सफाई हुई और पानी निकासी कराई गई। पक्की नाली का आश्वासन मिला तो लोगों को खुशी महसूस हुई। दैनिक जागरण ने सोमवार के अंक में इस कॉलोनी की समस्या को प्रमुखता से प्रकाशित किया था। यहां पर जलभराव व कूड़ा एकत्र होने से संक्रमण फैल गया था। कई लोग बीमार थे। समाचार पढ़ने के बाद नगर निगम से खाद्य एवं सफाई निरीक्षक, सुपरवाइजर आदि मौके पर पहुंचे। कॉलोनी में उगी झाड़ी की सफाई की गई। नाली से सिल्ट निकाली गई। जलभराव से जहां से कीचड़ हो गया था उसे साफ किया गया। एक प्लॉट पर कूड़ा पड़ा था। उसके मालिक को चेतावनी दी गई कि एक नवंबर तक यदि इसमें बाउंड्री नहीं की गई तो 50 हजार रुपये का जुर्माना कर दिया जाएगा। सफाई निरीक्षक ने अवगत कराया कि अधिकारियों से बात हो गई है। जल निकासी के पुख्ता इंतजाम के लिए जल्द ही पक्की नाली का निर्माण कराया जाएगा। अब जगी उम्मीद कि हम भी नगर निगम क्षेत्र में हैं अब लग रहा है कि हम लोग भी नगर निगम क्षेत्र में रहते हैं। शहर में होने के बावजूद कभी यहां पर कोई साफ-सफाई करने नहीं आता। जल भराव की पुरानी समस्या है।

-सोनिया अगर समाचार पत्र में न प्रकाशित होता तो यहां का कोई हाल पूछने वाला नहीं था। कई बार शिकायत कर ली गई लेकिन कोई आया नहीं। अब लगता है समस्या पूरी तरह से हल हो जाएगी।

-राधा अगर निगम के कर्मचारी ध्यान देते तो कोई बीमार नहीं पड़ता। हमारी कोई सुनवाई ही नहीं थी। जल भराव का स्थाई समाधान करना पड़ेगा। नाली व सड़क बनाई जाए। कूड़ा नियमित रूप से उठे।

-लक्ष्मीदेवी चंद्रलोक कॉलोनी में नियमित सफाई होगी और कूड़ा उठवाया जाएगा। अन्य समस्याओं का समाधान उच्च अधिकारियों को कराना है जिसके लिए आश्वासन मिला है।

-संजय, सुपरवाइजर नगर निगम

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस