मेरठ। कबाड़ी बाजार रेड लाइट एरिया ने पुलिस-प्रशासन को उलझा दिया है। हाईकोर्ट की सख्ती के बाद अधिकारियों ने मंगलवार शाम एक बार फिर कबाड़ी बाजार का रुख किया। तय किया गया कि वहां सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे और पुलिस पिकेट 24 घंटे मौजूद रहेगी। अनैतिक कार्य होने पर तत्काल कार्रवाई की जाएगी।

अधिकारियों का अमला घंटाघर से सराफा बाजार होते हुए कबाड़ी बाजार पहुंचा। नगर मजिस्ट्रेट संजय कुमार पांडेय, अपर नगर मजिस्ट्रेट अमिताभ यादव, सीओ ब्रह्मापुरी चक्रपाणि त्रिपाठी व सीओ कोतवाली दिनेश कुमार शुक्ला ने दल-बल के साथ गश्त की। तमाम कोठों पर ताले लगे मिले। कोठों के नीचे दुकान चलाने वालों से भी पूछताछ की। इसके बाद उन्होंने सीओ ब्रह्मापुरी के पुराने कार्यालय पर मंत्रणा की। उच्चाधिकारियों के निर्देश पर निर्णय लिया गया कि कबाड़ी बाजार में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे, ताकि वहां कोई अनैतिक गतिविधि होती है तो आरोपितों को तत्काल पकड़ा जा सके। इसके अलावा इस क्षेत्र में पुलिस पिकेट तैनात रहेगी। अधिकारी समय-समय पर औचक निरीक्षण करेंगे। किरायेदारों ने छोड़ा इलाका, स्वामित्व वाले परेशान

कबाड़ी बाजार में काफी संख्या में किराएदार रहते हैं। पुलिस कार्रवाई के डर से ज्यादातर किरायेदारों ने यह इलाका छोड़ दिया है। हालांकि, उनका सामान अभी भी कोठों के अंदर ही है, जबकि भवन स्वामित्व वाले लोग परेशान हैं। उनका कहना है कि उन पर मकान खाली करने का दबाव बनाया जा रहा है। दशकों से वह यहां रहते हैं। खुद का मकान छोड़कर जाना संभव नहीं है। छह बजते ही धरे रह गए हथौड़े-सरिया

अधिकारी पूरी तैयारी के साथ कबाड़ी बाजार पहुंचे थे। हथौड़े-सरियालेकर टीम भी पीछे चल रही थी। वजह थी कि यदि रेस्क्यू करना पड़ा तो इनका इस्तेमाल किया जा सके। शाम छह बजते ही सारा ताम-झाम धरा रह गया। अधिकारियों ने कानून का हवाला देते हुए कहा कि शाम छह बजे के बाद इस तरह की कार्रवाई नहीं की जा सकती।

आज फिर चलेगा अभियान

भले ही कोठों पर ताले लगे हों, लेकिन उनके अंदर महिलाओं और लड़कियों के छिपे होने की आशंका है। मंगलवार देर रात तक अधिकारी कोठों पर रेस्क्यू करने के लिए योजना बनाते रहे, परंतु खुलकर कोई बोलने को तैयार नहीं हुआ। बुधवार (आज) एक बार फिर अभियान चलाने पर तय हुआ। हालांकि, सीओ कोतवाली दिनेश कुमार शुक्ला ने कहा कि हाईकोर्ट के जो भी आदेश होंगे उनका पालन किया जाएगा।

इन्होंने कहा-

समय-समय पर कबाड़ी बाजार में चेकिंग चलती रही। उसी योजना के तहत मंगलवार को भी गश्त की गई।

-डा. अखिलेश नारायण सिंह, एसपी सिटी

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021