मेरठ, जागरण संवाददाता। स्‍नातक और विधि पाठ्यक्रमों में जिन छात्र- छात्राओं ने रजिस्‍ट्रेशन कराया था, उनके लिए बस 27 नवंबर तक प्रवेश का मौका दिया गया है। इसके बाद प्रवेश की प्रक्रिया बंद हो जाएगी। विश्‍वविद्यालय ने इसके बाद पोर्टल खोलने से मना कर दिया है। वहीं, दूसरी ओर अभी भी बहुत से छात्र- छात्राएं प्रवेश से वंचित हैं।

रजिस्‍ट्रेशन खोलने की मांग

विवि से जुड़े मेरठ और सहारनपुर मंडल में करीब 300 कालेज ऐसे हैं, जिसमें सीट के सापेक्ष बहुत कम प्रवेश हुआ है। ऐसे कालेज दोबारा से रजिस्‍ट्रेशन खोलने की मांग कर रहे हैं। वहीं, प्रवेश व रजिस्‍ट्रेशन से वंचित छात्र- छात्राएं भी पोर्टल खोलने की मांग कर रहे हैं। विवि में इस बार हर साल से कम प्रवेश हुए हैं। उधर, सीधे स्‍नातक के दूसरे वर्ष में प्रवेश के लिए लेटरल एंट्री में प्रवेश के लिए पोर्टल खुल गया है। विभिन्‍न कोर्स में सीधे प्रवेश लेने वाले छात्र- छात्राएं 30 नवंबर तक संबंधित पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए रजिस्‍ट्रेशन करा सकते हैं।

अल्पसंख्यक बीएड कालेजों में प्रवेश का मौका

मेरठ : चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय से संबद्ध अल्पसंख्यक बीएड कालेजों में प्रवेश का एक आखिरी मौका दिया गया है। इसमें विश्वविद्यालय का 26 से 27 नवंबर तक पोर्टल खोला जा रहा है। अल्पसंख्यक कालेजों ने जिन छात्रों का प्रवेश लिया है, और उनके प्रवेश कनफर्म नहीं हुए थे। वह उनके प्रवेश को कनफर्म कर सकते हैं। इसके बाद प्रवेश का मौका नहीं दिया जाएगा।

Edited By: Prem Dutt Bhatt