मेरठ, जेएनएन। चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय से संबद्ध मेरठ और सहारनपुर मंडल के सभी मेडिकल, नर्सिंग और पैरामेडिकल के छात्रों की ग्रीष्मकालीन छुट्टियां खत्म कर दी गई हैं। विश्वविद्यालय ने सभी पैरामेडिकल, नर्सिंग कालेजों के प्राचार्य को छात्रों को तुरंत बुलाने के लिए कहा है। छूट्टियों के खत्‍म करने की वजह भी बताई गई है। साथ ही छात्रों को तुरंत बुलाकर उनको प्रशिक्षण देने के लिए भी कहा गया है। इसके लिए शासन ने निर्देश जारी की है।

विश्वविद्यालय से संबद्ध महाविद्यालयों में एक मई से 31 मई तक ग्रीष्मकालीन अवकाश घोषित किया गया है, लेकिन कोविड-19 संक्रमण को देखते हुए और मेडिकल स्टाफ की कमी को देखते हुए कुलपति प्रोफेसर एनके तनेजा ने मेडिकल और पैरामेडिकल कालेजों में इन छुट्टियों को खत्म करने का निर्णय लिया है। उन्होंने संबंधित महाविद्यालयों के प्राचार्य को लिखे पत्र में कहा है कि नर्सिंग, पैरामेडिकल और मेडिकल के छात्रों को तुरंत बुलाकर प्रशिक्षण कराया जाना चाहिए।

उसके बाद जहां जरूरत हो उन्हें अन्य मेडिकल स्टाफ के साथ लगा कर उनकी सेवाएं ली जा सकती हैं। इन्हें नर्सेज और मेडिकल स्टाफ की तरह तैयार किया जाना चाहिए। जिससे कोविड-19 की महामारी की रोकथाम में शासन के प्रयासों के स्थापित चिकित्सा केंद्रों पर उनकी सेवाएं ली जा सकेगी। विश्वविद्यालय से संबंध मेडिकल और पैरा मेडिकल कालेजों में करीब 10 हजार से अधिक छात्र छात्राएं अध्ययनरत हैं। 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021