मेरठ, जेएनएन। चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय और संबद्ध महाविद्यालयों के छात्र छात्राओं की परीक्षा की तैयारी चल रही है। तो दूसरी ओर कुछ कोर्स में परीक्षा फ़ार्म भरने से वंचित रह गए छात्रों को दोबारा से फ़ार्म भरने के लिए मौका भी दिया गया है। विश्वविद्यालय ने स्पष्ट किया है कि परीक्षा हो या प्रोन्नति छात्रों को परीक्षा फ़ार्म भरना ही होगा।

इस प्रकार है कार्यक्रम

विश्वविद्यालय स्नातक अंतिम और परास्नातक अंतिम वर्ष की परीक्षा दो जुलाई से कराने जा रहा है। जबकि बीएड की परीक्षा सितंबर में प्रस्तावित है। इसके साथ ही एलएलबी और एलएलएल के परीक्षा फ़ार्म भी भरने शुरू हुए हैं। दूसरी ओर सम सेमेस्टर के भी परीक्षा फ़ार्म भरे जा रहे हैं। विश्वविद्यालय की ओर से इस बार स्नातक और परास्नातक अंतिम वर्ष के अलावा स्नातक द्वितीय वर्ष की भी परीक्षा कराई जाएगी।

सीसीएसयू ने यह स्‍पष्‍ट किया

इसके अलावा अन्य छात्रों को बगैर परीक्षा के अगली कक्षा में प्रोन्नत कर दिया जाएगा। छात्रों की मांग है कि जिन कक्षाओं में परीक्षा नहीं हो रही है। उसमें परीक्षा शुल्क न लिया जाए। केवल जिनकी परीक्षा होने वाली है उन्हीं में परीक्षा शुल्क लिया जाए। हालांकि, विश्वविद्यालय की ओर से परीक्षा शुल्क को लेकर अभी कोई निर्णय नहीं लिया गया है। विश्वविद्यालय ने सभी छात्रों को स्पष्ट किया है कि बग़ैर परीक्षा फार्म भरे प्रोन्नति का भी लाभ नहीं मिल सकता है।

मूल्यांकन की भी तैयारी

चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय की विषम सेमेस्टर की परीक्षा पहले हुई थी। उसकी मूल्यांकन प्रक्रिया रुकी हुई है। अब जब कालेजों में ग्रीष्मकालीन छुट्टी शुरू हो गई है। वैसे में विश्वविद्यालय मूल्यांकन की तैयारी में भी जुट गया है। ग्रीष्मकालीन छुट्टी को देखते हुए रेगुलर शिक्षक मूल्यांकन में कम आ सकते हैं। ऐसे में सेल्फ फाइनेंस कालेजों के शिक्षक लगाएं जा सकते हैं।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप