मेरठ, जेएनएन। शहर के प्रमुख कपड़ा व्यापारी सतनाम नय्यर की पत्नी मनमोहन कौर से 25 लाख की रंगदारी मामले में पुलिस ने आठ आरोपितों को पकड़ लिया है। उनके दो साथियों की तलाश की जा रही है। सतनाम नय्यर के करीबी और दुकान पर काम करने वाले कर्मचारी ने ही रंगदारी मांगने का प्लान तैयार किया था। उन्होंने लूटेरों के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया है। पुलिस ने रंगदारी मांगने वाला मोबाइल भी बरामद कर लिया है।

यह था मामला

लालकुर्ती के जवाहर क्वार्टर में रहने वाले सतनाम नय्यर का लालकुर्ती और मलियाना में कपड़े का कारोबार है। मंगलवार की दोपहर साढ़े बारह बजे सतनाम की पत्नी मनमोहन कौर को काल कर 25 लाख की रंगदारी मांगी गई। रकम नहीं देने पर बेटे सहज को अगवा करने की धमकी भी दी गई है। पीडि़त परिवार की तहरीर पर लालकुर्ती थाने में मुकदमा दर्ज कर तीन टीमों को लगा दिया है। सॢवलांस की टीम को रंगदारी मामले में कामयाबी मिल गई है। सॢवलांस की टीम ने आठ बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है। उनके दो साथियों की तलाश में दबिश डाली जा रही है। पकड़े गए आरोपितों में सतनाम नय्यर की करीबी और दुकान का कर्मचारी भी शामिल है।

यह बताया एसएसपी ने

उन्होंने ही बदमाशों के एक गैंग के साथ मिलकर रंगदारी की काल कराई। बदमाशों ने पहले पल्लवपुरम से मोबाइल लूटा। उसी मोबाइल से मनमोहन कौर को काल कर 25 लाख की रंगदारी मांगी गई है। एसएसपी अजय साहनी का कहना है कि पुलिस ने पूरे गैंग की पड़ताल कर आठ बदमाशों को पकड़ लिया है। उनके दो साथियों की तलाश में देर रात तक छापामारी की जा रही है। रविवार को रंगदारी मामले में प्रेसवार्ता की जाएगी। सतनाम नय्यर को डराकर रकम लेने का प्लान आरोपितों ने बनाया था। इसलिए उनके बेटे सहज को उठाने की धमकी दी गई थी। उधर, कैंट विधायक सत्यप्रकाश अग्रवाल ने भी शनिवार को नय्यर परिवार से मिलकर जल्द केस खुलवाने का भरोसा दिलाया था।

Edited By: Prem Dutt Bhatt