मेरठ, जेएनएन। अपने वाहनों पर फर्जी हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगवाकर दौड़ाने वालों को आने वाले दिनों में चेकिंग का सामना करना पड़ेगा। पुलिस शहर में अभियान चलाकर ऐसे वाहनों पर लगी फर्जी हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट उतारेगी।

यह है मामला

सिविल लाइन पुलिस ने 20 दिन पहले न्यू मोहनपुरी में छापा मारकर फर्जी हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट बनाने वाली फैक्ट्री पकड़ी थी। मौके से पुलिस ने सम्राट पैलेस कालोनी निवासी अनुज अग्रवाल और पुरानी मोहनपुरी निवासी राज को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। फैक्ट्री के अंदर से पुलिस में सात सौ से ज्यादा फर्जी नंबर प्लेट बरामद की थीं। अनुज अग्रवाल की निशानदेही पर सदर बाजार पुलिस ने थापर नगर में छापा मारा, जहां से एक आरोपित को गिरफ्तार कर तीन सौ से ज्यादा फर्जी हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट बरामद की थी।

फर्जी हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट जिन वाहनों में लगाई गई थी, उन सभी वाहनों से उतारने की योजना बनाई गई है। एसपी ट्रैफिक जितेंद्र श्रीवास्तव ने बताया कि फर्जी सिक्योरिटी नंबर प्लेट की जांच को अभियान चलाकर इसे सभी वाहनों से उतारा जाएगा। एसपी ट्रैफिक ने बताया कि जांच में पता चला है कि नकली प्‍लेट में आरटीओ का बारकोड नहीं है। हालांकि होलोग्राम लगाया गया है। 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021