मेरठ, जेएनएन। एसटीएफ और यूपी पुलिस के मोस्ट वांटेड ढाई लाख के इनामी बदन सिंह बद्दो की पंजाबीपुरा स्थित आलीशान कोठी पर एमडीए ने आखिरकार बुल्डोजर चला दिया। पहले दिन कोठी का सिर्फ 60 फीसद हिस्सा टूट पाया। एमडीए अफसरों के अलावा एसएसपी, एसपी सिटी और दो एएसपी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर रहे। पुलिस ने बद्दो की संपत्ति कुर्क करने के बाद कोठी को जमींदोज करने की बड़ी कार्रवाई की है।

टीपी नगर के पंजाबीपुरा मेरठ निवासी बदन सिंह बद्दो को 28 मार्च 2019 को फर्रुखाबाद पुलिस ने गाजियाबाद कोर्ट में पेश किया था। शातिर बद्दो प्लानिग करके पुलिस के साथ मेरठ में दिल्ली रोड स्थित मुकुट महल होटल पहुंच गया। वहां शराब पार्टी के दौरान पुलिसकर्मियों को बेहोश कर फरार हो गया। ब्रह्मपुरी थाने में मुकदमा दर्ज है। बद्दो को पकड़ने के लिए यूपी पुलिस के अलावा एसटीएफ लगाई गई लेकिन उसका कोई सुराग नहीं लग पाया। पुलिस ने बद्दो की फरारी में सहयोग करने वाले आरोपितों को जेल भेज दिया था। हालांकि अभी उसकी महिला दोस्त पर कार्रवाई नहीं हो पाई है। ब्रह्मपुरी पुलिस ने सात नवंबर को बद्दो की पंजाबीपुरा स्थित कोठी की संपत्ति को कुर्क कर दिया था। एमडीए ने गुरुवार को पहले दिन दो बुल्डोजर और 20 मजदूरों को लगाया। ये पूरा दिन में कोठी का 60 फीसदी हिस्सा तोड़ पाए। इस दौरान एमडीए के डिप्टी कलेक्टर मनोज सिंह, एसएसपी अजय साहनी, एसपी सिटी अखिलेश नारायण, एएसपी कृष्ण विश्नोई, सूरज राय भी मौजूद रहे।

कोठी ध्वस्तीकरण को देखने उमड़ी भीड़

कोठी ध्वस्तीकरण के समय हजारों की भीड़ उमड़ी। आसपास के लोग अपने घरों की छत पर जमा थे। कोठी के पीछे बेरीपुरा में बद्दो ने आलीशान लोन बना रखा था। उसी लोन से बुल्डोजर घुसाकर कोठी तक ले जाया गया।

पांच नोटिस का नहीं दिया जवाब

कोठी जमींदोज करने से पहले बद्दो की भाभी कुलदीप कौर को पांच नोटिस दिए गए। तीन नोटिस एमडीए और दो नोटिस पुलिस ने कोठी के मुख्य गेट पर चस्पा किए। किसी भी नोटिस का वह जवाब नहीं दे पाई। कुलदीप कौर द्वारा कमिश्नर कोर्ट में दायर वाद निरस्त हो गया था।

इन्होंने कहा-

बदन सिंह बद्दो की कोठी का निर्माण एमडीए की अनुमति के बिना किया गया था। एमडीए में इसका कोई रिकार्ड नहीं है, लिहाजा कोठी अनाधिकृत थी। बद्दो की भाभी कुलदीप कौर को नोटिस दिया लेकिन वह कोई जवाब नहीं दे पाई। पुलिस सुरक्षा में कोठी को जमींदोज किया जा रहा है।

-मनोज सिंह, डिप्टी कलेक्टर एमडीए शासन के निर्देश पर पुलिस ने दो माह पहले बद्दो की संपत्ति कुर्क की थी। कोठी को जमींदोज करने के लिए एसपी सिटी और अन्य अफसरों के नेतृत्व में एमडीए को पुलिस फोर्स मुहैया कराया गया। आधे से अधिक बिल्डिग ध्वस्त हो चुकी है। रात में भी पुलिस कोठी पर रहेगी।

-अजय साहनी, एसएसपी

कोठी ध्वस्तीकरण को देखने उमड़ी भीड़

कोठी ध्वस्तीकरण के समय हजारों की भीड़ उमड़ी। आसपास के लोग अपने घरों की छत पर जमा थे। कोठी के पीछे बेरीपुरा में बद्दो ने आलीशान लोन बना रखा था। उसी लोन से बुल्डोजर घुसाकर कोठी तक ले जाया गया। इस दौरान एमडीए के डिप्टी कलेक्टर मनोज सिंह, एसएसपी अजय साहनी, एसपी सिटी अखिलेश नारायण, एएसपी कृष्ण विश्नोई, सूरज राय भी मौजूद रहे।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021