मेरठ, जेएनएन। सांस लेने में तकलीफ होने पर दो फरवरी से फोर्टिस अस्पताल में भर्ती भाजपा नेता की पत्‍नी की रविवार शाम मौत हो गई। परिजनों ने अस्पताल प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप लगाकर जमकर हंगामा किया। सूचना पर कोतवाली सेक्टर 58 पुलिस मौके पर पहुंची और मामले को शांत कराया। इस मामले में पुलिस को लिखित शिकायत दी गई है।
नोएडा में कराया था भर्ती
रजनीश कौशल मेरठ भाजपा व्यापार प्रकोष्ठ में मीडिया प्रभारी हैं। वे जिला मेरठ केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट एसोसिएशन के महामंत्री भी हैं। दो फरवरी को उन्होंने अपनी पत्नी विनीता कौशल (49) को सांस लेने में तकलीफ होने पर नोएडा के फोर्टिस अस्पताल में भर्ती कराया था। यहां डाक्टरों ने स्वाइन फ्लू की पुष्टि की थी। इलाज में लापरवाही होने पर वह यहां से पत्नी को डिस्चार्ज कराकर दिल्ली के एम्स अस्पताल में भर्ती कराना चाहते थे।
आरोप लगाया
रजनीश का आरोप है कि रविवार सुबह डिस्चार्ज कराने की बात कहने के बाद अस्पताल प्रशासन ने तरह-तरह की और बीमारियां बतानी शुरू कर दीं। आरोप है कि दोपहर के समय डॉक्टर विजिट के बाद उनकी हालत चिंताजनक बताई गई। बताया गया कि रक्तचाप बढ़ने के कारण मरीज की किडनी फेल हो चुकी है, इसलिए उसकी डायलिसिस करनी पड़ेगी। इसी बीच रविवार शाम करीब साढ़े चार बजे अस्पताल प्रबंधन ने विनिता की मृत्यु की सूचना दी।
छह लाख से अधिक किया भुगतान
रजनीश कौशल ने बताया कि वेंटिलेटर का प्रतिदिन करीब एक लाख रुपये खर्च आ रहा था। करीब छह लाख रुपये खर्च कर चुके थे। आशंका जताई कि वेंटीलेटर पर रख कर बेवजह उनसे रुपये लिए जा रहे थे। वहीं, कोतवाली सेक्टर 58 प्रभारी इंस्पेक्टर पंकज राय ने कहा कि इस मामले में लिखित शिकायत मिली है। जांच के बाद कार्रवाई होगी।
इनका कहना है
मामला संज्ञान में नहीं है। पीड़ित परिवार की तरफ से लिखित शिकायत मिलने पर जांच कर कार्रवाई होगी।
-डा. अनुराग भार्गव, सीएमओ
परिजन मरीज को अस्पताल से डिस्चार्ज कराना चाहते थे। डिस्चार्ज कर दिया गया था, लेकिन इसके कुछ देर बाद ही फिर भर्ती करने का अनुरोध किया गया। जब तक दोबारा प्रक्रिया शुरू होती तभी कार्डियक अरेस्ट होने से महिला की मौत हुई।
-जॉयश्री, पीआरओ, फोर्टिस अस्पताल

Posted By: Ashu Singh