मेरठ, जेएनएन। ग्राहकों की मांग को देखते हुए बैंकों ने एक और कदम बढ़ाया है। इसके लिए बैंक तैयारी में लग गए हैं। त्‍योहारी सीजन को देखते हुए ग्राहकों की मांग पूरी करने के लिए बैंक ग्राहकों को नए नोट देने की तैयारी कर रही है। सभी को नए नोट मिले इसके लिए कई बैंकों ने अपनी अलग-अलग तैयारी की है। एटीएम से लेकर बैंक काउंटर तक इसकी तैयारी की गई है।

करेंसी चेस्ट की मांग पर आरबीआइ कई बैंकों के करेंसी चेस्ट में नए नोट भेज रहा है। अब एटीएम और ब्रांच से ग्राहकों को आसानी से नए नोट मिल सकते हैं। त्योहारों पर लोग पुराने नोट नहीं लेना चाहते। एटीएम से दो हजार, पांच सौ, दो सौ और सौ रुपये के नए नोट निकल रहे हैं। 50, 20 रुपये के नोट ग्राहक बैंकों से लेकर आते हैं। कई बैंकों में ये नोट आसानी से नहीं मिलते।

मेरठ मेें स्टेट बैंक, पीएनबी आदि बैंकों के करेंसी चेस्ट में नए नोट आरबीआइ से भेजे जा रहे हैं। एसबीआइ कैंट के मुख्य प्रबंधक हरीश बाधवा ने बताया कि नए नोट उपलब्धता के आधार पर ग्राहकों को दिए जा रहे हैं। करेंसी चेस्ट से सभी ब्रांच में नए नोट भेजे जा रहे हैं। एटीएम में भी नए नोट डाले जा रहे हैं।

करेंसी चेस्ट की मांग पर मिलते हैं नोट

आरबीआइ कानपुर से नए नोट आरबीआइ के अधिकारियों की निगरानी में बैंकों की करेंसी चेस्ट में भेजे जाते हैं। मेरठ में सबसे बड़ी करेंसी चेस्ट कैंट एसबीआइ की है। करेंसी चेस्ट से बैंक की अन्य शाखाओं में बैंक भेजते हैं। बैंक से जो कटे, खराब नोट होते हैं, उसे करेंसी चेस्ट से एकत्रित कर आरबीआइ को वापस भेजा जाता है।

बैंकों से नहीं मिलेंगे सोने के सिक्के

धनतेरस और दीपावली में बहुत से लोग सोने के सिक्के लिए खरीदते हैं। पिछले साल से बैंकों से सिक्के बिकने बंद हो गए हैं। इस बार भी बैंक से सोने के सिक्के नहीं मिलेंगे। बैंकों से मिलने वाले गोल्ड बांड को लेकर भी अभी कोई निर्देश नहीं आया है।  

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस