सहारनपुर, जागरण संवाददाता। आनलाइन ठगी के मामलों में अक्सर पहले फोन करके खाते की जानकारी मांगी जाती है, लेकिन गंगोह के एक युवक के साथ ऐसा कुछ नहीं हुआ। युवक का कहना है कि उसके खाते से चंडीगढ़ के एटीएम से कैश निकाला गया है, जबकि उसका एटीएम कार्ड उसके पास है। उसे एटीएम लिए हुए भी कुछ ही दिन हुए हैं। जिस दिन उसने अपना पासवर्ड खोला। उसी दिन पैसे निकल गए।

यह है मामला

गंगोह निवासी अंकित कुमार ने बताया कि उसका खाता इंडियन ओवरसीज बैंक गंगोह में है। उसने 14 जनवरी को अपने खाते का एटीएम कार्ड लिया था। उसने 15 जनवरी को दिन में अपने एटीएम का पासवर्ड बनाया। इसके बाद वह घर चला गया। अंकित का कहना है कि रात में उसके पास मैसेज आया कि उसके खाते से 40 हजार रुपये निकाल लिए गए हैं। जिसके बाद 16 जनवरी की सुबह वह बैंक में पहुंचा और उसने पूरी जानकारी ली। बैंक से जानकारी मिली कि पैसा चंडीगढ़ के किसी एटीएम से निकाला गया है। जबकि युवक का कहना है कि एटीएम और पासवर्ड उसके पास ही था और पैसे चंडीगढ़ के एटीएम से कैसे निकल गए। पीडि़त का कहना है कि उसके पास कोई फोन भी नहीं आया। न ही उसने किसी को अपने खाते की जानकारी दी। उसने किसी लिंक पर क्लिक तक नहीं किया। अंकित ने साइबर सेल और बैंक के अधिकारियों को शिकायत देकर मामले की जांच की मांग की है। अपने पैसे वापस मंगाने की गुहार लगाई है।

 

Edited By: Parveen Vashishta