जागरण संवाददाता, मेरठ। सोतीगंज के चोरी के वाहन कटान को रोकने के लिए पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है। 16 कबाड़ियों पर मुकदमा दर्ज करने के बाद तीन को गिरफ्तार कर लिया गया है। फरार कबाड़ियों की तलाश में तीन टीमें बनाकर दबिश डाली जा रहीं हैं। नामजद किए आरोपितों पर गैंगस्टर, अवैध रुप से कमाई करके अर्जित की गई संपत्ति के जब्तीकरण की कार्रवाई की जाएगी। एएसपी कैंट सूरज राय ने दावा किया कि कबाड़ियों के खिलाफ अभियान जारी रहेगा।

एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने बताया कि सदर बाजार थाने की सोतीगंज मार्केट से बदनामी का कलंक हटाया जाएगा। पहले ही दिन पुलिस ने एक 16 कबाड़ियों की दुकान और गोदामों में छापामारी की गई है। सभी दुकानों और गोदामों से करीब 23 वाहनों के इंजन, 120 खिड़की, 30 बोनेट, चार धूरे और अन्य वाहनों की चेचिस तथा लाइटें बरामद की गई। निवाड़ी फोरेंसिंक लैब की टीम इसकी जांच के लिए सदर बाजार थाने में पहुंची थी। फिलहाल पुलिस ने 16 कबाड़ियों के खिलाफ धोखाधड़ी से चोरी के वाहनों का सामान बेचने का मुकदमा दर्ज कर लिया है। जिनमें प्रवेश उर्फ परवेज पहाड़ी निवासी गंज बाजार, हाजी वहीद और नवाज शरीफ निवासीगण दरगाह वाली गली सोतीगंज को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। कप्तान ने बताया कि सोतीगंज में पुलिस ने सभी 112 दुकानदारों की लिस्ट तैयार की हुई है।

ये कबाड़ी बनाए गए मुकदमे में वांछित

साकिब उर्फ गद्दू, उसका भाई मोहसिन, जिशान उर्फ पव्वा, निवासीगण गंज बाजार, सलीम उर्फ टबरे, मोनू, मन्नू, जावेद, आबिद और साजिद निवासीगण सोतीगंज, उजेर निवासी पटेल नगर देहलीगेट, सोनू उर्फ तोतला, साजिद उर्फ घोड़ा निवासीगण पूर्वा फय्याज अली और सोहेल उर्फ शीला निवासी पूर्वा अहमद नगर हैं। इनकी तलाश में पुलिस की तीन टीमें लगा दी गई है।

एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने कहा: सोतीगंज में चोरी के वाहनों का कटान नहीं होने दिया जाएगा। सभी कबाड़ियों की जानकारी गोपनीय टीम के द्वारा जुटा ली गई है। सभी पर लगातार कार्रवाई की जाएगी। कानून व्यवस्था प्रभावित करने वाले कबाड़ियों पर रासुका की कार्रवाई भी की जा सकती है। 

Edited By: Himanshu Dwivedi