मेरठ, जेएनएन। हस्तिनापुर महाभारतकालीन पांडव टीले पर शनिवार को भी पौराणिक अवशेष खोजने व तलाशने का कार्य जारी रहा। नोएडा के इंस्टीटयूट आफ आर्कोलोजिकल से आए छात्र-छात्राओं ने दो स्थानों पर बनाए गए ट्रेंच में कार्य जारी रखा। पूर्व में मिले अवशेषों को साफ कर उन्हें संरक्षित किया गया।

पांडव टीले में दफन कई काल के रहस्य खोलने के लिए एएसआई टीम कार्य कर रही है। अधीक्षण पुरातत्वविद् डीबी गणनायक के नेतृत्व में चल रहे कार्य में शुक्रवार को इंस्टीटयूट आफ आर्कोलोजिकल नोएडा से आए 15 छात्र-छात्राओं ने खोज कार्य जारी रखा। रघुनाथ महल के पास बनाए गए ट्रेंच में पुरातात्विक उपकरणों से अवशेष खोजने का कार्य जारी रहा। हालांकि कोई विशेष अवशेष प्राप्त नहीं हो सका। वहीं, पांडव टीले के उत्तर पूर्व दिशा में बनाए गए ट्रेंच में भी छात्र छात्राओं ने एएसआई के अधिकारियों के नेतृत्व में अवशेष खोजने का कार्य जारी रखा। शनिवार को पूर्व में प्राप्त हुए अवशेषों को साफ कर उन्हें पृथक पृथक किया गया। अवशेषों में से चिन्हित किए गए अवशेषों को जांच के लिए मुख्यालय भेजा जाएगा। इस मौके पर रोहित सिंह, विवेक कुमार, अरविद राणा आदि रहे।

विधायक ने सुरेश के स्वजन को दी सांत्वना : दबथुवा में भाजपा विधायक संगीत सोम शनिवार को पोहल्ली गांव पहुंचे, जहां उन्होंने बुधवार को जातीय संघर्ष में मारे गए सुरेश गुप्ता के स्वजन को सांत्वना दी। उन्होंने कहा कि आरोपित किसी भी कीमत पर नहीं बख्शे जाएंगे। हालांकि, इस बीच ग्रामीणों ने आíथक मदद की भी मांग की। महेश गुप्ता, सुधीर गुप्ता, मोहन गुप्ता, राजकुमार गुप्ता, रविदर चौधरी, संजीव चौधरी आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran