बागपत, जेएनएन। किशोरी के साथ दुष्कर्म के तीन दिन बाद ही आरोपित पक्ष की एक महिला ने अपने साथ सामूहिक दुष्कर्म का आरोप लगाया है। पीड़ित किशोरी के स्वजन पर ही इस गंभीर आरोप को लगाकर कोतवाली में तहरीर भी दी है, पुलिस जांच में यह घटना झूठी निकली है।

यह है मामला

क्षेत्र के एक गांव में आठ जून को एक किशोरी ने गांव के ही एक युवक पर घर में घुसकर दुष्कर्म करने और उसके दो साथियों पर मारपीट करने का आरोप लगाते हुए कोतवाली में तीनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। किशोरी का आरोप है कि पुलिस ने मुकदमे को छेड़छाड़, दुष्कर्म के प्रयास और मारपीट में दर्ज किया। उधर, गुरुवार को आरोपित पक्ष की एक महिला अपने स्वजन के साथ कोतवाली में पहुंची और आरोप लगाया कि दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली किशोरी के पांच स्वजन उसके घर में घुस आए और उसके साथ गलत काम किया। इस पर संदेह होने पर पुलिस ने मामले की गांव में पहुंचकर गहराई से जांच की।

कोतवाल अजय कुमार शर्मा ने बताया कि जांच में यह मामला झूठा निकला है। आरोपित पक्ष की महिला क्रॉस केस कराने के लिए ऐसे मनगढ़ंत आरोप पीड़ित किशोरी के स्वजन पर लगा रही है। कोतवाल ने बताया कि किशोरी की तहरीर पर छेड़छाड़ और दुष्कर्म के प्रयास का मुकदमा दर्ज हुआ है। आरोपितों की गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है।

समझौता नहीं किया तो लगा दिया सामूहिक दुष्कर्म का आरोप

पीड़ित किशोरी और उसकी मां ने बताया कि उन्होंने दुष्कर्म की घटना में आरोपितों के दबाव में समझौता नहीं किया और न ही डेढ़ लाख रुपए लिए, जिसके बाद आरोपित पक्ष की एक महिला ने उनके स्वजन पर सामूहिक दुष्कर्म करने का झूठा आरोप लगा दिया। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप