मेरठ,जेएनएन। लिसाड़ीगेट के समर गार्डन चौकी क्षेत्र में सोने के आभूषण गलाने की अवैध भट्टी चलवाने पर पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई हो गई है। लेकिन अभी तक अवैध धंधा करने वालों पर कोई कार्रवाई नहीं हो पाई है। एसएसपी दावा कर रहे हैं कि इनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। सभी को चिह्नित किया जा रहा है। सोना गलाने वालों के खिलाफ भी प्रदूषण नियंत्रण विभाग को रिपोर्ट भेजी गई है।

लिसाड़ी गेट की समर गार्डन चौकी पर तैनात सिपाही रिंकू नागर के खिलाफ वसूली की शिकायत आ रही थी। पुलिस जाच में सामने आया कि रिंकू नागर के साथ चौकी प्रभारी जितेंद्र कुमार और सिपाही लोकेंद्र सिंह की शह पर सोना गलाने का अवैध धंधा चल रहा था। साथ ही डहर में सट्टा भी खेला जा रहा था। जाच में तीनों पुलिसकर्मियों की मिलीभगत मिलने पर उन्हें निलंबित कर दिया गया। सोना गलाने की अवैध भट्ठी चलाने वालों और सट्टा खिलाने वालों पर कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

सीओ अरविंद चौरसिया का कहना है कि पुलिस जाच के दौरान सभी अवैध धंधा बंद कर फरार हो गए हैं। अवैध धंधा करने वालों पर भी कार्रवाई की जाएगी।

संपत्ति विवाद में पिता-पुत्र गिरफ्तार: कंकरखेड़ा थाना पुलिस ने गुरुवार को संपत्ति विवाद में पिता-पुत्र को गिरफ्तार किया है। वहीं, दूसरे मामले में फल विक्रेता संग मारपीट करने के आरोप में दो ग्राहक युवकों को गिरफ्तार किया है।

कंकरखेड़ा इंस्पेक्टर सुबोध सक्सेना ने बताया कि नंगलाताशी सैनिक विहार निवासी अजय का अपने पिता जयप्रकाश संग कई दिनों से संपत्ति को लेकर विवाद चल रहा था। गुरुवार को भी पिता-पुत्र के बीच झगड़ा हो गया। पुलिस दोनों को थाने ले आई। पुलिस ने अपनी ओर से दोनों को मारपीट के केस में गिरफ्तार किया। दूसरे मामले में खरखौदा क्षेत्र के हुमायूं नगर निवासी साबुद्दीन व नौचंदी क्षेत्र में एल ब्लाक निवासी साहिल को सरधना रोड पर फल विक्रेताओं के साथ मारपीट के आरोप में गिरफ्तार किया है।

Edited By: Jagran