मेरठ, जेएनएन। तहसील रोड पर सीएचसी में बीते दिनों मरीजों के तिमारदारों से बाहर से दवाई मंगवाने का मामला प्रकाश में आया था। इसमें सीएचसी प्रभारी सहित दो चिकित्सकों के स्थानांतरण कर दिए गए थे। अब इस मामले की जांच कर रिपोर्ट एसीएमओ ने सीएमओ को सौंप दी है और उन्होंने शासन को भेज दी है। उन्होंने बताया कि अब शासन स्तर से चिकित्सकों व अन्यों पर कार्रवाई हो सकती है। सीएचसी में राजनीतिक षड्यंत्र के तहत हंगामा हुआ था। क्योंकि, इसके पीछे कुछ लोगों को पदोन्नत व कुछ का स्थानांतरण करना था। सूत्र बताते है कि जांच में इसका भी हवाला दिया गया है। हालांकि, इस पर एसीएमओ डा. एसकेअरोरा ने गोलमोल जवाब दिया।

यह है मामला

बीते दिनों विधायक संगीत सोम सूचना पर सीएचसी पहुंचे थे। जहां, मरीजों व तिमारदारों ने चिकित्सकों पर आरोप लगाते हुए बाहरी मेडिकल स्टोर से दवाई मंगवाने की बातकह कर हंगामा किया था। इसके बाद विधायक ने सीएचसी प्रभारी सहित अन्य को जमकर फटकार लगाई थी और तिमारदारों के रुपये वापस दिलवाए थे। एसीएमओ डा. एसके अरोरा ने मामले की जांच कर रिपोर्ट सीएमओ डा. अखिलेश मोहन को सौंप दी है। इसके बाद उन्होंने रिपोर्ट शासन को भेज दी। अब शासन के निर्देश पर ही दोषियों पर कार्रवाई होगी।

राजनीतिक षड़यंत्र के तहत हुआ हंगामा

माना जा रहा है कि सीएचसी में राजनीतिक षड्यंत्र के तहत हंगामा हुआ था। क्योंकि, इसके पीछे कुछ लोगों को पदोन्नत व कुछ का स्थानांतरण करना था। सूत्र बताते है कि जांच में इसका भी हवाला दिया गया है। हालांकि, इस पर एसीएमओ डा. एसकेअरोरा ने गोलमोल जवाब दिया। 

Edited By: Taruna Tayal