मेरठ, जेएनएन। मोदीपुरम क्षेत्र में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा को हथौड़े से तोड़कर उसका इंटरनेट मीडिया पर वीडियो वायरल करने वाले आरोपित को पल्लवपुरम पुलिस ने गिरफ्तार किया है। वायरल वीडियो का मामला लखनऊ तक पहुंचा तो डीजीपी के हस्तक्षेप के बाद पल्लवपुरम पुलिस हरकत में आई थी। गुरुवार देर रात आरोपित को उसके पल्हैड़ा स्थित मकान से गिरफ्तार कर शुक्रवार को जेल भेज दिया गया।

इंटरनेट मीडिया पर करीब 30 सेकेंड का वीडियो एक महीने से वायरल हो रहा था। वीडियो में एक युवक राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा के सिर पर पैर रखकर खड़ा है। इसके बाद युवक ने हथौड़े से प्रतिमा को तोड़ दिया। आरोपित ने खुद ही वीडियो वायरल किया था। डीजीपी ने गुरुवार रात में मेरठ पुलिस अधिकारियों से प्रकरण जाना। तत्काल ही पुलिस आरोपित युवक की तलाश में जुट गई। देर रात पुलिस ने आरोपित युवक पल्लवपुरम के पल्हैड़ा गांव निवासी रवि कुमार जाटव पुत्र अशोक कुमार जाटव को धर दबोचा। जांच में पता चला कि वीडियो 30 जनवरी-2021 को बनाया गया था। इंस्पेक्टर देवेश कुमार शर्मा ने बताया कि पुलिस ने अपनी ओर से आरोपित के खिलाफ केस दर्ज कर उसे कोर्ट में पेश किया, जहां से न्यायिक हिरासत में उसे जेल भेज दिया।

खुद को गोडसे का अनुयायी बताया

इंस्पेक्टर देवेश कुमार शर्मा ने बताया कि जब आरोपित रवि कुमार जाटव से राष्ट्रपिता की प्रतिमा तोड़ने का कारण पूछा गया तो उसने कहा कि वह नाथूराम गोडसे का अनुयायी है। आरोपित को अपने किए पर जरा भी पछतावा नहीं हो रहा था।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021