मेरठ, जेएनएन। कंकरखेड़ा से अगवा किशोरी की तलाश में लव जिहाद के मामले का राजफाश हुआ है। पुलिस ने किशोरी को बरामद कर आरोपित मोहम्मद अब्दुल्ला को गिरफ्तार किया है। वह नौकरी का झांसा देकर मासूम लड़कियों को प्रेमजाल में फंसाता था। किशोरी को भी उसने ऐसा ही झांसा दिया था। पुलिस ने आरोपित को कोर्ट में पेश किया, जहां से जेल भेज दिया गया।

यह है मामला

कंकरखेड़ा के नंगला ताशी निवासी मोहम्मद अब्दुल्ला ने तीन सितंबर को 17 साल की किशोरी को अगवा कर लिया था। पुलिस ने केस तो दर्ज किया, मगर कई दिन तक कार्रवाई नहीं की। दो दिन पूर्व ङ्क्षहदू संगठन के लोगों ने लव जिहाद का आरोप लगाकर किशोरी के स्वजन और क्षेत्रवासियों के साथ कंकरखेड़ा थाने में धरना दिया। इसके बाद पुलिस ने मंगलवार रात किशोरी को गंगानगर के एक मकान से बरामद किया। बुधवार सुबह आरोपित को गिरफ्तार किया। उसने किशोरी का अपहरण करने की बात स्वीकार की। पुलिस ने किशोरी को उसके स्वजनों को सौंप दिया।

पांच महिलाओं को कर चुका अगवा

पुलिस सूत्रों के अनुसार मोहम्मद अब्दुल्ला का सरधना रोड पर जॉब प्लेसमेंट के नाम से दफ्तर है। जांच में सामने आया कि अब्दुल्ला इससे पहले तीन ङ्क्षहदू महिलाओं और एक युवती को अगवा कर चुका है। लड़कियों फंसाने के लिए अपना नाम बदल लेता था। किशोरी को उसने अपना नाम अमन बताया था। उसे नौकरी लगवाने का झांसा दिया था। उसके बाल उड़े हुए हैं, इसलिए विग लगाता है। उसके पास एक दर्जन से अधिक विग हैं।

चार शादी, चार बच्चे

40 साल के अब्दुल्ला ने चार शादियां की हैं। वर्तमान बीवी से उसके चार बच्चे हैं। एक बीवी किठौर की है जिससे कोर्ट में केस चल रहा है। एक शादी उसने पंजाबी महिला से की थी, जिसका कुछ पता नहीं है। एक बीवी की मौत हो चुकी है।

इनका कहना है...

आरोपित अब्दुल्ला ने किशोरी का अपहरण किया था। पुलिस ने किशोरी को बरामद कर आरोपित को गिरफ्तार कर लिया।

- डॉ. अखिलेश नारायण सिंह, एसपी सिटी

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस