मेरठ, जेएनएन। आधार में सुधार के लिए डाकघरों में सेवा केंद्र खुले हुए हैं। जहां पर आवेदक जाकर अपने आधार में सुधार या फिर नया कार्ड बनवाते हैं, पर लगभग महीनों से आधार सेवा केंद्र के ठप पड़ जाने से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। आधार बनवाने के लिए लोग इधर से उधर भटक रहे हैं, पर कोई भी राहत नहीं मिल रही है। मेरठ में कुल 28 सेवा केंद्र बनाएं गए हैं, जिनपर आए दिन परेशानी होती रहती है। कभी कनेक्‍शन समस्‍या तो कभी सर्वर की वजह से काम प्रभावित होता है।

डाकघरों में आधार सेवा केंद्र बंद होने के कारण एक माह से आवेदक परेशान हैं। मेरठ के 28 आधार सेवा केंद्रों में केवल एक छावनी स्थित प्रधान डाकघर में आधार कार्ड बनाए जा रहे हैं। यहां पर सुबह से ही आवेदकों की लंबी कतार लग रही है। डाक विभाग के अधिकारियों का कहना है कि वह लगातार यूआइडीएआइ के संपर्क में हैं। लेकिन वेबसाइट पर अपडेशन प्रक्रिया के चलते आधार कार्ड पोर्टल काम नहीं कर रहा है।

केवल छावनी प्रधान डाकघर चालू

मेरठ में प्रत्येक शनिवार को आधार कार्ड बनाने के लिए महा लाग इन डे मनाया जाता था। लेकिन एक माह से आधार कार्ड सेवा ठप पड़ी है। ऐसे में आधार कार्ड के आवेदक यहां-वहां परेशान हो रहे हैं। उधर, बैंक शाखाओं में आधार कार्ड बनाने का कार्य काफी समय से बंद पड़ा है। मेरठ के सभी डाकघरों में केवल छावनी स्थित प्रधान डाकघर पर आधार सेवा केंद्र चालू है, जहां पर आधार कार्ड बनाए जा रहे हैं।

लंबी-लंबी कतारों में खड़े रहते हैं लोग

आधार कार्ड बनावाने को लेकर आलाम यह है कि लंबी-लंबी लाइनों के साथ अपने पारी आने का इंतजार कर रहे हैं। केवल एक सेवा केंद्र के चलने से लोगों की सुबह से लेकर शाम तक भीड रहती है। इस कारण डाकघर के बाहत तक लंबी कतारें लगी रहती हैं। इस दौरान लोग कड़ी धूप और बारिश का भी सामना करते हैं। इनके साथ आए स्‍वजन भी परेशान रहते हैं।  

Edited By: Himanshu Dwivedi