मेरठ, जेएनएन। उत्‍तर प्रदेश के मेरठ में एक ऐसा वाकया हुआ है, जो आपको भी हैरत में डाल देगा। एक पढ़े लिखे डाक्‍टर को तात्रिकों ने लाखों का चूना लगा दिया। मामला अलादिन के चिराग का है। दरअसल, मेरठ के ही एक डाक्‍टर को कुछ तात्रिकों ने झांसे में लेकर अलादिन का चिराग बेच दिया। डाक्‍टर ने इसके लिए लाखों रुपये दिए। अलादिन का चिराग डाक्‍टर के घर भी कुरियर से आ भी गया। लेकिन डाक्‍ट के उस समय होश उड़ गए, जब उसने इसका इस्‍तेमाल करना चाहा।

जानकारी मिलने पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने जब उन दोनों से पूछताछ की तो उन लोगों ने बताया कि उनके पास असली अलादिन का चिराग है। जिसे घिसने से जिन्‍न निकलता है। ऐसा उन्‍होंने डाक्‍टर को बता कर झासा दिया था। बताया कि डाक्‍टर के मन को पूरी तरह काबू करके उन्‍होंने यह सौदा किया। डाक्‍टर के उस समय होश उड़ गए जब उसने कुरियर से आए चिराग के पैकेट को खोला तो उसमे से खिलौना निकला।

ईदगाह चौपले निवासी इकरामुद्दीन ने तांत्रिक क्रिया का काम शुरू किया है। इकरामुद्दीन ने एक जादुई चिराग दिखाकर खैर नगर के डाक्टर लईक से 75 लाख में सौदा तय कर लिया। दावा किया कि जादुई चिराग आपकी सभी इच्छाएं पूरी करेगा। लईक अहमद ने एडवांस में कुछ रकम दे दी। उसके बाद जादुई चिराग लिया। लेकिन चिराग से कोई भी जादू नहीं हो पाया।

उसके बाद डाक्टर लईक की तरफ से ब्रह्मपुरी पुलिस को मामले की शिकायत की गई। इंस्पेक्टर ब्रह्मपुरी सुभाष अत्री ने बताया कि डाक्टर की शिकायत पर समर गार्डन के पास से इकरामुद्दन को गिरफ्तार लिया। साथ ही उसके कब्जे से जादुई चिराग भी बरामद कर लिया। बाद में दूसरे तांत्रिक अनीस को भी दबोच लिया गया।

इससे पहले भी इकरामुद्दीन जादुई चिराग का सौदा अन्य लोगों से कर चुका था। बाकायदा जादुई चिराग से कई करतब भी दिखा चुका है। पुलिस तांत्रिक क्रिया करने वाले इकरामुद्दीन से सघन पूछताछ कर रही है। देखा जा रहा है कि उक्त चिराग तांत्रिक कहां से लाया है। साथ ही तांत्रिक के साथ काम करने वाले अन्य लोगों की भी तलाश की जा रही है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021