मेरठ, जेएनएन। मेरठ और आसपास जिलों में आज कई प्रमुख मामले चर्चा में हैं। यहां हम आपको ऐसी ही बड़ी खबरों को कम शब्दों में बताने जा रहे हैं।

1: दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर कार में पंचर लगा रहे दो दोस्तों को डीसीएम ने कुचला, एक की मौत 

मेरठ : दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर कार में पंचर लगा रहे दो दोस्तों को तेज रफ्तार डीसीएम ने कुचल दिया। एक की मौत हो गई जबकि दूसरे की स्थिति गंभीर है। नई दिल्ली देवली खानपुर स्थित साईं अपार्टमेंट निवासी 29 वर्षीय भरत सिंह अपने दोस्त संत नगर बुराड़ी दिल्ली के रहने वाले अंकित रावत के साथ उत्तराखंड घूमने जा रहे थे। सुबह लगभग पांच बजे काशी टोल प्लाजा से आगे उनकी अर्टिगा पंचर हो गई। उन्होंने एक्सप्रेसवे के साइड में कार खड़ी कर ली और पंचर लगाने लगे। तभी दिल्ली की ओर से आ रहे तेज रफ्तार डीसीएम ने दोनों युवकों को कुचल दिया। हादसे के बाद डीसीएम क्षतिग्रस्त हालत में एक्सप्रेसवे पर ही छोड़कर फरार हो गया। दोनों को अस्पताल ले जाया गया जहां उपचार के दौरान रविवार सुबह सात बजे भरत की मौत हो गई। जबकि अंकित की गंभीर हालत को देखते हुए चिकित्सकों ने उसे दिल्ली रेफर कर दिया।

2: अग्निपथ योजना जवानों के खिलाफ: सत्यपाल मलिक 

बागपत: केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ अक्सर सार्वजनिक मंच से टिप्पणी करने वाले मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने सेना में भर्ती के लिए केंद्र सरकार की नई अग्निपथ योजना का विरोध किया है। उन्होंने कहा कि नई भर्ती योजना अग्निपथ जवानों के खिलाफ है। यह उनकी उम्मीदों के साथ धोखा है। छह माह जवान ट्रेनिंग करेगा, छह माह की छुट्टी, तीन साल की नौकरी करने के बाद जब जवान घर लौट आएगा तो उसका ब्याह भी नहीं होगा। सरकार को इस भर्ती योजना पर पुनर्विचार करना चाहिए। पुरानी पद्धति पर ही सेना में भर्ती होनी चाहिए। यही देश के लिए और देश की युवा पीढ़ी के लिए सही है। वे बोले, पदमुक्त होते ही कश्मीर पर किताब लिखूंगा। किसानों, जवानों के लिए जहां जरूरी होगा, संघर्ष करूंगा। उन्होंने स्पष्ट किया कि अब सक्रिय राजनीति करने या चुनाव लड़ने की कोई इच्छा नहीं है।

3: डेरा आश्रम पर उमड़ी भीड़, बडौत मार्ग जाम

बागपत: बरनावा के डेरा सच्चा सौदा आश्रम में रविवार को सुबह कई प्रांतों से सैंकड़ो गाड़ियों में हजारों अनुयायी पहुंच गए। इस दौरान बड़ौत मेरठ मार्ग पर भी जाम की स्थिति रही। रोहतक की सुनारिया जेल से पैरोल पर डेरा प्रमुख राम रहीम गुरमीत सिंह बरनावा के शाह सतनाम सिंह आश्रम में आने के बाद अनुयायी लगातार मिलने आ रहे हैं। डेरा प्रबंधन सोशल मीडिया के माध्यम से अनुयायियों से न आने की अपील कर रहा है। पुलिस प्रशासन ने भी डेरा प्रबंधन को अनुयायियों की भीड़ को रोकने की सख्त हिदायत दे रखी है। देर रात से फिर हरियाणा, राजस्थान, दिल्ली आदि कई प्रांतों से गाड़ियों का काफिला आश्रम पहुंचना शुरू हो गया। यह सिलसिला सुबह तक चलता रहा।

4: कंट्रोल रूम में फोन कर युवक बोला-एसएसपी प्रभाकर चौधरी गरीबों के मसीहा हैं, वो चले गए तो मैं जान दे दूंगा

मेरठ:  हेलो, कंट्रोल रूम। एसएसपी प्रभाकर चौधरी गरीबों के मसीहा हैं। उनका ट्रांसफर हो गया तो मैं जान दे दूंगा। इतना सुनते ही पुलिसकर्मी चौंक गए। तुरंत ही पीआरवी और थाना पुलिस को जानकारी दी। इंस्पेक्टर ने नंबर पर बात की तो युवक उनको रोकने की मांग पर अड़ा रहा। पुलिस उसकी तलाश कर रही है। यह वाकया रविवार की सुबह का है। बता दें कि एसएसपी प्रभाकर चौधरी का शनिवार को आगरा के लिए तबादला हो गया है। पुलिस ने उक्‍त नंबर पर काल की तो युवक ने अपना नाम शान बताया। उससे पता पूछा तो बेगमपुल निवासी बताया। उन्होंने उसे थाने में आने के लिए कहा तो मना कर दिया। युवक के बारे में पता लगाया जा रहा है। मोबाइल फोन के जरिये उसकी लोकेशन निकाली जा रही है।

5: कोरोना के पांच नए मरीज मिले, 50 पाजिटिव, लापरवाही बरत रहे लोग

सहारनपुर: जिले में रोजाना कभी पांच तो कभी सात कोरोना के केस सामने आ रहे हैं। रविवार को भी पांच लोगों की रिपोर्ट पाजीटिव आई है। बावजूद इसके लोग लापरवाही बरत रहे हैं और कोरोना गाइडलाइन का पालन करने के लिए तैयार नहीं है। हर जगह लापरवाही बरती जा रही है।

 

Edited By: Parveen Vashishta