बिजनौर, जागरण संवाददाता। बढ़ती हुई जनसंख्या और घटते हुए संसाधनों को देखते हुए जनसंख्या समाधान फाउंडेशन पिछले 8 वर्षों से जनसंख्या नियंत्रण के लिए भारत सरकार से विभिन्न माध्यम से मांग करता चला रहा है। इसके लिए देश के अंदर सख्त जनसंख्या नियंत्रण कानून जल्द लागू करने की मांग को लेकर प्रदेश स्तरीय एक रथ यात्रा शुरू की गई है, जो 8 दिसंबर को बिजनौर के धामपुर में पहुंचेगी। रविवार को जनसंख्या फाउंडेशन की स्थानीय इकाई की बैठक हुई।

यह बताया पदाधिकारियों ने

इस बैठक में पदाधिकारियों ने बताया कि 4 दिसंबर को जनसंख्या नियंत्रण रथयात्रा गाजियाबाद से प्रारंभ हो चुकी है, यह यात्रा 8 दिसंबर को धामपुर पहुंचेगी। प्रदेश भर के 66 जिलों में यह रथ यात्रा भ्रमण करेगी, जिसमें लोगों को जागरुक करते हुए सरकार से भी जल्द जनसंख्या नियंत्रण कानून लागू करवाने की मांग की जाएगी। धामपुर निवासी फाउंडेशन के राष्ट्रीय कार्यकारणी सदस्य डॉक्टर एसके राजपूत ने बताया कि यह यात्रा 8 दिसंबर को दोपहर 3 बजे धामपुर पहुंचेग। जिसमें राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिल चौधरी व राष्ट्रीय संयोजक ममता सहगल सहित राष्ट्रीय कार्यकारिणी तथा प्रदेश कार्यकारिणी के कार्यकर्ता शामिल रहेंगे। 

मुजफ्फरनगर के बुढ़ाना में किया गया स्‍वागत

वहीं मुजफ्फरनगर के बुढ़ाना में जनसंख्या नियंत्रण कानून बनवाने की मांग को लेकर जनसंख्या समाधान फाउंडेशन की रथयात्रा रविवार को बुढ़ाना पहुंचने पर लोगों ने जगह-जगह फूल माला पहना कर स्वागत किया। जनसंख्या समाधान फाउंडेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिल चौधरी ने बताया कि संगठन की ओर से प्रदेश के 66 जिलों में रथयात्रा निकाल कर सभा करके जनसंख्या नियंत्रण कानून बनवाने के लिए लोगों को जागरूक किया जा रहा है।

देहरादून में तलवार दपंती ने चलाया अभियान

मेरठ : जनसंख्या नियंत्रण कानून की मांग को लेकर मेरठ के तलवार दंपती ने शनिवार को देहरादून में प्रधानमंत्री की रैली के दौरान जागरूकता अभियान चलाया। जनसंख्या पर लगाम लगाने की मांग को लेकर लोगों को पोस्टकार्ड बांटे। पति-पत्नी ने हाथों ने जनसंख्या नियंत्रण की मांग वाले पोस्टर लेकर उल्टा चलकर लोगों का इस समस्या की तरफ ध्यान खींचा। सुरभि परिवार फाउंडेशन के अध्यक्ष दिनेश तलवार ने बताया कि जनसंख्या नियंत्रण की मांग को लेकर उन्होंने पत्नी दिशा के साथ वे अब तक 250 से अधिक शहरों में पदयात्रा कर चुके हैैं। इसी कड़ी में उन्होंने शनिवार को अपना अभियान चलाया। देहरादून के परेड ग्राउंड में प्रधानमंत्री व उत्तराखंड सरकार की विजय संकल्प रैली के दौरान उल्टा चले और जनसंख्या वृद्धि के नुकसान बताए। उन्होंने समाज को बताया कि अगर इसी तरह जनसंख्या बढ़ती रही तो आने वाली पीढ़ी बेहतर शिक्षा, रोजगार, भोजन समेत अन्य मूलभूत जरूरतों के लिए तक तरसेंगे। इसीलिए उनकी मांग है कि देश में जनसंख्या नियंत्रण का कानून जरूर बने।

Edited By: Prem Dutt Bhatt