मेरठ, जागरण संवाददाता। New Variant Of Corona कोरोना के नए स्ट्रेन को लेकर प्रदेश सरकार हाई अलर्ट है। स्वास्थ्य विभाग ने पिछले दस दिन में विदेशों से आने वाले 107 यात्रियों की सूची बनाई है, जिनकी जांच तत्परता से की जाएगी। बोस्तवाना, हांगकांग एवं दक्षिण अफ्रीका में वायरस का नया वैरिएंट मिला है, जबकि कई अन्य देशों तक संक्रमण पहुंचने की आशंका तेज हो गई है।

यह कहा गया वीसी में

शनिवार को अपर मुख्य सचिव चिकित्सा अमित मोहन प्रसाद ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए जिला स्वास्थ्य विभाग के साथ मीटिंग की। कहा कि हर स्तर पर सतर्कता बढ़ानी होगी। मंडलीय सर्विलांस अधिकारी डा. अशोक तालियान ने बताया कि पिछले दो माह में तीन सौ से ज्यादा विदेशी यात्री मेरठ पहुंचे हैं, लेकिन गत दस दिनों में पहुंचे यात्रियों की सैंपलिंग पर खास जोर है। कोई मरीज पाजिटिव मिला तो पुणे की वायरोलोजी लैब में सैंपल भेजकर जीनोम सिक्वेंसिंग कराई जाएगी। मेडिकल कालेज की माइक्रोबायोलोजी लैब को अलर्ट कर दिया गया है।

डाक्टर दंपती के सैंपल की होगी जीनोम सिक्वेंसिंग

गत दिनों देहरादून से मेरठ लौटे डाक्टर दंपती में कोरोना की पुष्टि हुई थी। सीएमओ डा. अखिलेश मोहन ने बताया कि दंपती का सैंपल जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजा गया है।

शासन की ओर से गाइडलाइन

दूसरी ओर मेरठ के जिलाधिकारी के. बालाजी ने बताया कि बोत्सवाना, दक्षिण अफ्रीका और हांगकांग में कोरोना का नया वैरिएंट सामने आया है। इसको लेकर प्रदेश सरकार ने अतिरिक्त सतर्कता बरतने को लेकर दिशा-निर्देश जारी किए हैं। अपर मुख्य सचिव चिकित्सा, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग, उत्तर प्रदेश द्वारा अपने कार्यालय पत्र माध्यम से गाइडलाइन जारी की गई है। नया वेरिएंट लोक स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है और चिंताजनक स्थिति बना सकता है। ऐसे में एट रिस्क अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की जांच करने व संक्रमित मिलने पर उनकी जिनोम सिक्वेंसिंग कराए जाने को लेकर भी निर्देशित किया गया है। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग, प्रशासनिक व अन्य संबंधित विभागों को सतर्कता बनाए रखने के लिए निर्देशित किया।

कई म्यूटेशन की आशंका

यह बता दें कि अन्य देशों में जहां कोवैक्सीन को मान्यता का इंतजार है, वहां से आने वाले यात्रियों की 14 दिनों के अंदर कोविड जांच होगी। पाजिटिव मिलने वालों की जीनोम सिक्वेंसिंग भी कराई जाएगी। डा. तालियान ने बताया कि इस वेरिएंट में कई म्यूटेशन की आशंका जताई गई है। संक्रमित देशों एवं उनके पड़ोसियों के यहां से आने वाले यात्रियों पर विशेष नजर रखी जाएगी। 

Edited By: Prem Dutt Bhatt