नवनीत शर्मा,मेरठ। Died Due To Corona कोरोना संक्रमण से हुई मौत के बाद अब केंद्र सरकार के निर्देश पर राज्य सरकार ने पीडि़त परिवार को 50 हजार रुपये की मदद देने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। मदद के संबंध में अपर मुख्य सचिव के द्वारा जारी आदेश के बाद जिला प्रशासन ने भी मदद के संबंध में स्थानीय स्तर पर तैयारी शुरू कर दी है। जनपद में फिलहाल कोरोना से 898 लोगों की मौत होना माना गया है जिनके आश्रित को 50 हजार रुपये की मदद राज्य आपदा मोचक निधि द्वारा दी जाएगी।

सत्यापन करेगा प्रशासन

राशि प्रदान करने के लिए सरकार ने लोगों से आवेदन मांगे हैं। आवेदन के एक माह के अंदर जिला प्रशासन को सत्यापन कर निस्तारण करना होगा। मदद के लिए चयनित किए गए मृतकों के स्वजन को आवेदन पत्र में 11 बिंदुओं पर जानकारी उपलब्ध करानी होगी। शासन द्वारा आदेश जारी होते ही जिला प्रशासन ने भी इस संबंध में आगे की कार्यवाही शुरू कर दी है। शीघ्र ही कमेटी का गठन कर चयनित दिवंगत के आश्रितों का सत्यापन कराया जाएगा।

मेरठ में हुई सबसे ज्यादा मौत

शासन द्वारा जारी सूची के अनुसार मेरठ में जहां 898 कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की मौत हुई, वही गाजियाबाद में 461, गौतमबुधनगर में 467, बागपत में 141, बुलंदशहर में 242 और हापुड़ में 217 लोगों की मौत कोरोना से होना बताया गया है। शासन ने सूची जारी कर इसी आधार पर मृतकों के आश्रितों को मदद देने की तैयारी की है।

समिति बताएगी ,संक्रमण से हुई मौत

जारी दिशा निर्देश के अनुसार अनुग्रह राशि प्राप्त करने से पहले मृत्यु प्रमाण पत्र पर मृत्यु कोविड-19 के संक्रमण से हुई है अंकित कराना होगा। जिसके लिए अपर जिलाधिकारी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी, प्रधानाचार्य मेडिकल कॉलेज और मेडिसिन विभाग के एक विशेषज्ञ की राय ली जाएगी।

उलझा रहा मौत का आंकड़ा

शासन द्वारा जारी की गई सूची के अनुसार कोरोना संक्रमण से हुई मृत्यु का आंकड़ा लोगों के लिए उलझन भरा है। क्योंकि कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में मेरठ में ही सरकारी अस्पताल में मेडिकल कॉलेज के अलावा निजी अस्पतालों में भी बड़ी संख्या में लोगों की मौत संक्रमण के कारण हुई थी। तब जारी किए गए प्रमाण पत्र पर मृत्यु का कारण न लिखा होने के कारण भी तमाम लोगों ने विरोध जताया था। अब शासन द्वारा जारी संक्रमण से हुई मृत्यु का आंकड़ा भी कई लोगों को मदद राशि से वंचित कर सकता है।

इनका कहना है

कोरोना संक्रमण से हुई मौत व आश्रितों को 50 हजार रुपए की सहायता राशि उपलब्ध कराने के संबंध में शासन से निर्देश जारी हो गए हैं। सूची में जारी दिवंगत की संख्या के अनुसार सत्यापन कराया जाएगा और मदद देने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

- के. बालाजी, डीएम, मेरठ

Edited By: Prem Dutt Bhatt