शामली, जेएनएन। UP Firecracker Factory BLAST अवैध पटाखा फैक्ट्री में विस्फोट में चार लोगों की मौत हो जाने के मामले में फरार चल रहे मुख्य आरोपित सहित चार आरोपितों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

यह है मामला

शुक्रवार को मायापुर रजवाहे पर गांव जगनपुर की ओर पटरी के निकट हुए अवैध पटाखा फैक्ट्री में विस्फोट हो गया था, जिसमें चार मजदूरों की मौत हो गई थी। चार मजदूर गम्भीर रूप से घायल हो गए थे। पुलिस की ओर से इस संबंध में मुकदमा दर्ज किया गया था। एक दिन पूर्व पुलिस ने नामजद आरोपित रहीस व रिजवान को गिरफ्तार कर लिया था। जबकि रविवार को मुख्य आरोपित राशिद व गुलशन निवासीगण पानीपत के अलावा जावेद व इकबाल निवासीगण मोहल्ला आलकलां को गिरफ्तार किया हैं।

यह मिली जानकारी

पुलिस के मुताबिक, मुख्य आरोपित राशिद से की गई पूछताछ में जानकारी हुई है कि उसके पास पटाखा बनाने एवं भंडारण का लाइसेंस है, जो सनौली पानीपत का है। परंतु कुछ अरसे से फैक्ट्री सड़क निर्माण होने के कारण बंद पड़ी है। इसके चलते उसने कैराना में रिजवान के जरिये रहीस आदि से पटाखे का काम करने की कहकर उनकी अचार बनाने की फैक्ट्री किराए पर ली थी। इस फैक्ट्री में पटाखा बनाने के साथ ही उसके ताऊ के लड़के लियाकत और गुलशन द्वारा अवैध रूप से बनाए गए पटाखे भी सप्लाई हो रहे थे। पटाखों की पैकिंग के दौरान ही विस्फोट हो गया था। आरोपितों की गिरफ्तारी कांधला तिराहे के निकट से की गई है। बता दें कि गिरफ्तार गुलशन पर मवी गांव में अवैध पटाखा भंडारण का भी आरोप है। 

Edited By: Taruna Tayal