शामली, जेएनएन। UP Firecracker Factory BLAST शामली में कैराना में शुक्रवार शाम को भूरा बाईपास स्थित एक अवैध पटाखा फैक्ट्री में हुए विस्फोट में चार लोगों की मौत के बाद प्रशासन एक्‍शन मोड में आ गया है। हादसे में चार लोग गंभीर रूप से घायल भी हो गए थे। देर रात अधिकारियों के आदेश पर इस मामले में फैक्ट्री संचालक सहित चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। वहीं अवैध फैक्ट्री के संचालक की तलाश में रातभर पुलिस ने हरियाणा में दबिश दी। मुख्य आरोपित पुलिस पकड़ में नहीं आने पर पुलिस ने उसके परिजनों व रिश्तेदारों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है।

अफसरों ने कार्रवाई को गठित की टीम

भूरा बाईपास रजवाहे की पटरी पर काफी दिनों से एक आचार बनाने की फैक्ट्री बंद पड़ी थी। उसे पानीपत निवासी राशिद ने किराए पर लेकर उस में अवैध रूप से पटाखा बनाने की फैक्ट्री का संचालन शुरू कर दिया था,जिसमें 25 लोग काम कर रहे थे,लेकिन शुक्रवार को वहां पर केवल 9 लोग थे। शाम के समय लगभग 4:30 बजे फैक्ट्री में जोरदार विस्फोट हुआ था। इस हादसे में चार लोगों के मौत हो गई थी। जिलाधिकारी,पुलिस अधीक्षक, दमकल विभाग अधिकारी सभी मौके पर पहुंचे थे। जिलाधिकारी ने इस मामले में जांच के लिए एक मजिस्ट्रेट स्तर की टीम भी गठित की है। देर रात शुक्रवार मामले में पुलिस ने उपनिरीक्षक शैलेंद्र गोड की ओर से विस्फोटक अधिनियम व धारा 304 में फैक्ट्री संचालक राशिद कलंदर शाह पानीपत हरियाणा व जमीन मालिक इक़बाल, रहीश व जावेद पुत्रगण जमशेद निवासी मोहल्ला आलकला कैराना के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। कैराना कोतवाली प्रभारी प्रेमवीर राणा ने कहा कि कार्रवाई शुरू कर दी है।

हरियाणा में दी गई दबिश

अवैध पटाखा फैक्ट्री में हुए भीषण विस्फोट से नगर ही नहीं पूरा जिला हिल गया। विस्फ़ोट में चार लोगों की दर्दनाक मौत होने पर पुलिस प्रशासन हरकत में आ गया। अवैध फैक्ट्री के संचालक की तलाश में रातभर पुलिस ने हरियाणा में दबिश दी। मुख्य आरोपित पुलिस पकड़ में ना आने पर पुलिस ने उसके परिजनों व रिश्तेदारों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी। नगर से मात्र डेढ़ किलोमीटर की दूरी पर स्थित मायापुर रजवाहे पर गांव जगनपुर की ओर पटरी पर स्थित वर्षों से बन्द पड़ी आचार फैक्ट्री में लगभग एक माह से अवैध पटाखे फैक्ट्री में पटाखें बनाने का कार्य जोरों से शुरू हो रहा था। बंद पड़ी फैक्ट्री में चल रहे अवैध कार्य की किसी को कानोंकान भनक नहीं लगी।

बच्‍चों को लेकर हुआ फरार

पुलिस ने देर रात अवैध फैक्ट्री के संचालक राशिद की तालाश में हरियाणा के जनपद पानीपत में स्थित उसके आवास पर दबिश दी। लेकिन आरोपित उसे पहले अपने बच्चों को लेकर वहाँ से फरार हो गया था। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक प्रेमवीर सिंह राणा ने जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस की ओर से चार लोगों के खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकदमा पंजीकृत किया गया है। मुख्य आरोपित के रिश्तेदार व परिजनों को पकड़ कर राशिद की गिरफ्तारी के लिए पुलिस पूछताछ कर रही है। पानीपत खटीमा राजमार्ग पर महीनों से चल रहे निर्माण कार्य से पटरी का मेन रास्ता बाधित होने के कारण चल रहा था गोरखधंधा। वहीं वर्षों से बंद पड़ी फैक्ट्री के मुख्य गेट पर बहार से हर समय ताला बंद रहने के कारण सभी को भ्रमित कर तेजी से उसके अंदर दर्जनों मजदूर कार्य कर बनान रहे थे अवैध पटाखे।

Edited By: Prem Dutt Bhatt