मुजफ्फरनगर, जेएनएन। मतांतरण के कथित आरोप और विदेशी फंडिंग के मामले में एटीएस यूपी द्वारा गिरफ्तार किये गये गांव फुलत मदरसा के निदेशक एवं प्रबंधक मौलाना कलीम सिद्दीकी की गिरफ्तारी का समाजवादी पार्टी ने विरोध किया है। महावीर चौक स्थित काय्रालय पर शुक्रवार को हुई बैठक में सपा के वरिष्ठ नेताओं ने मौलानां कालीम सिद्दीकी की गिरफ्तारी की निंदा करते हुए इस कार्रवाई को उत्पीड़न बताया।

सपा जिलाध्यक्ष एड. प्रमोद त्यागी ने कहा कि मौलाना कलीम सिद्दीकी का संपूर्ण इतिहास साम्प्रदायिक सौहार्द व एक सम्मानित इस्लामिक विद्वान का है। एक सम्मानित व्यक्ति की पहले गिरफ्तारी व बाद में जांच समझ से परे है। बैठक में सपा नेताओं ने कहा कि मौलाना कलीम सिद्दीकी की गिरफ्तारी भाजपा सरकार ने बहुत जल्दबाजी में की है, जो उनकी मंशा पर सवाल खड़े करती है। किसी सम्मानित व्यक्ति की गिरफ्तारी से पूर्व पहले सघन जांच तथा जांच में तथ्य सही पाये जाने पर ही किसी सम्मानित व्यक्ति को गिरफ्तारी अगर की जाती है तो समाजवादी पार्टी ऐसे मामलों का कतई समर्थन नहीं करती।

सपा जिलाध्यक्ष प्रमोद त्यागी एडवोकेट ने कहा कि अनेक मामलों में इसी तरह की गिरफ्तारी के बाद कई न्यायालय ने सभी आरोपों को गलत मानकर अधिकतम प्रकरण में उनको बाइज्जत बरी किया। उन्होंने मौलाना कलीम सिद्दीकी की गिरफ्तारी किये जाने के मामले को एक सम्मानित शख्सियत का अपमान व उत्पीड़न बताया। उन्होंने कहा कि ऐसे प्रकरणों में बिना जांच के जेल भेजने तथा बाद में निर्दाेष साबित होने पर भी उनका सम्मान वापिस नहीं होता है।

मौलाना कलीम सिद्दीकी का समस्त क्षेत्र उनकी उदारता एवं विद्वता की प्रशंसा करता रहा है। जिस प्रकार यह प्रकरण घटित हुआ सपा उसकी निन्दा करती है।महानगर अध्यक्ष अलीम सिद्दीकी, जिला महासचिव जिया चौधरी, पूर्व मंत्री उमा किरण, पूर्व विधायक अनिल कुमार, पूर्व जिलाध्यक्ष गौरव स्वरूप, पूर्व मंत्री मुकेश चौधरी, शिवान सैनी, पूर्व विधानसभा प्रत्याशी राकेश शर्मा, पूर्व सपा प्रत्याशी चन्दन सिंह चौहान, पूर्व जिलाध्यक्ष श्याम लाल बच्ची सैनी, पूर्व एमएलसी प्रत्याशी गौरव जैन, हाजी लियाकत, अब्दुल्ला राणा, साजिद हसन, उमादत्त शर्मा, टीटू रमन पाल, शौकत अंसारी, मेहराजुदीन तेवडा सहित सैंकड़ों कार्यकर्ता मौजूद रहे।मौलाना कलीम के स्वजन से मिलने फुलत जायेंगे सपाईमुजफ्फरनगर: सपा जिलाध्यक्ष प्रमोद त्यागी ने कहा कि सपा नेताओं का एक प्रतिनिधि मण्डल इस मामले की हकीकत जानने के लिए गांव फुलत जायेगा और मौलाना कलीम के स्वजन तथा मदरसे के दूसरे मौलानाओं से भी मुलाकात की जाएगी।

 

Edited By: Taruna Tayal