मेरठ, जेएनएन। मेरठ और आसपास जिलों में आज कई प्रमुख मामले चर्चा में हैं। यहां हम आपको ऐसी ही बड़ी खबरों को कम शब्दों में बताने जा रहे हैं। जो खबरें दिनभर सुखिर्यों में रहीं हैं।

1: भूख लगी है, खाना बनवाओ बोलकर मुजफ्फरनगर में बदमाशों ने डाली लाखों की डकैती

मुजफ्फरनगर। जिले के चरथावल में शनिवार की देर रात में हथियारों से लैस बदमाशों ने किसान परिवार को गनप्वाइंट पर लेकर कमरे में बंधक बनाकर नकदी व सोने चांदी के जेवरात सहित करीब दस लाख रुपये की डकैती डाली गई। डकैती की सूचना से पुलिस में हडकंप मच गया। थाना क्षेत्र के गांव क्यामपुर निवासी फरजंद पुत्र मुस्तकीम किसान हैं और अपने परिवार के साथ गांव के बाहरी छोर पर रहते हैं। रात के करीब एक बजे करीब एक दर्जन बदमाश हथियारों से लैस उसके पास आए उसमें से कुछ बदमाश मुंह लपेटे हुए थे। उन्होंने कहा कि उन्हें भूख लगी है और उनके लिये खाना बनवाओ। बदमाशों ने किसान और उनकी पत्‍ली को गनपाइंट पर लेकर मकान का दरवाजा खुलवाया और जैसे ही महिला खाना बनाने लगी तो बदमाशों ने दूसरी मंजिल पर सो रहे लड़के प्रवेश व उसकी पत्नी को गनप्वाइंट पर ले लिया और फिर लूटपाट करने लगे।

2- नशा मुक्ति केंद्र में बिगड़ी युवक की हालत, अस्पताल में झगड़ा, चिकित्सक समेत पांच घायल

बागपत। नशा मुक्ति केंद्र में कीटनाशक पदार्थ पीने के बाद युवक के उपचार को लेकर एक निजी अस्पताल में झगड़ा हुआ। अस्पताल स्टाफ व मरीज के तीमारदारों के बीच जमकर मारपीट हुई। दोनों पक्ष के कई लोग घायल हुए। कार में तोड़फोड़ की गई। इससे हंगामा हुआ। पुलिस मामले की जांच कर रही है। 

3: पुलिस भर्ती के नाम पर वसूली

मेरठ। ग्वालियर और देहरादून की कंपनी उत्तर प्रदेश के बेरोजगार युवकों से पुलिस भर्ती के नाम पर अरबों रुपये वसूल चुकी हैं। परीक्षा केंद्र संचालकों को झांसे में लेकर कंप्यूटर को रिमोट पर लेकर प्रश्न-पत्र हल कराया गया था। मामला पकड़ में आने के बाद कंपनी के दोनों आफिस बंद कर दिए और यहां काम करने वाले फरार हो गए। अभी तक पता नहीं चल पाया कि पूरे गैंग को संचालित करने वाले कौन हैं। एसपी क्राइम को इसकी कमान सौंपी गई है।

4: चौधरी नरेश व राकेश टिकैत पर तालाब और बंजर भूमि कब्जाने का आरोप

मुजफ्फरनगर। सिसौली के ग्रामीणों ने रविवार को पत्रकार वार्ता की। इस दौरान गांव के राहुल मुखिया ने भाकियू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत व राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत पर गांव के करीब 12 तालाबों पर कब्जा करने का आरोप लगाया। आरोप है कि उन्होंने गांव के तालाब, बंजर भूमि पर अपने लोगों को कब्जा करा दिया। आरोप है कि तालाब की जमीन पर ही भारतीय किसान यूनियन का दफ्तर बना हुआ है। सिसौली निवासी राहुल मुखिया व देवेंद्र बालियान ने आरोप लगाया कि भाकियू के दबाव में गांव में वर्षों से चकबंदी भी नहीं हुई है। इस संबंध में डीएम तक शिकायत की जा चुकी है, लेकिन अभी तक कोई कार्यवाही नहीं हुई है। ग्रामीणों ने जिला स्तर से कार्रवाई ना होने पर मुख्यमंत्री से मिलने की चेतावनी दी है। हालांकि इन आरोपों को नरेश टिकैत ने पूरी तरह निराधार बताया है। प्रशासन ने भी ऐसी किसी शिकायत से अनभिज्ञता जताई है।

5: कोरोना में सूक्ष्म, लघु मध्यम उद्योग ने संभाली अर्थव्यवस्था, बचाकर रखे रोजगार, मेरठ में बोलें केंद्रीय मंत्री भानु प्रताप वर्मा

मेरठ: केंद्रीय एमएसएमई राज्यमंत्री भानु प्रताप वर्मा रविवार को मेरठ पहुंचे। उन्होंने स्पोर्ट्स एवं गुड्स कांप्लेक्स के प्रशिक्षण केंद्र, लैब और टेक्नोलॉजी डेवलपमेंट सेंटर (पीपीडीसी) का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि कोरोना काल के दौरान एमएसएमई उद्योग की वजह से अर्थव्यवस्था संभली हुई थी। उन्होंने ही रोजगार संभाल के रखा। तमाम कठिनाइयों में उत्पादन जारी रखा।

 

Edited By: Parveen Vashishta