मेरठ, जेएनएन। हनुमान जयंती 27 अप्रैल को है। मंगलवार को हनुमान जयंती पर बाबा का भव्य श्रंगार होगा। चोला अर्पण व भोग लगाकर आरती की जाएगी। मंदिर में श्रद्धालुओं की सीमित संख्या की पाबंदी के चलते श्रद्धालु अनुष्ठान आनलाइन देख सकेंगे। शहर के अधिकांश मंदिरों की ओर से फेसबुक पेज बनाया गया है, जिस पर बाबा के लाइव दर्शन कराए जाएंगे। घरों में महाबली का गुणगान होगा और सुंदरकांड, श्रीराम चरितमानस का पाठ किया जाएगा।

सिद्धपीठ श्रीहनुमान मंदिर बुढ़ाना गेट के प्रबंधक डा. अनिल पाठक ने बताया कि कोरोना के चलते वृहद स्तर पर कार्यक्रम का आयोजन नहीं किया जा रहा है। जरूरतमंदों को सूखा राशन वितरित किया जाएगा।

पीएल शर्मा रोड स्थित सिद्धपीठ दक्षिणमुखी पंचमुखी हनुमान मंदिर के पुजारी पं.कैलाशदत्त शर्मा व विवेक दत्त शर्मा ने बताया कि हनुमान जयंती पर मंदिर परिसर में सभी कार्यक्रम सांकेतिक रूप से होंगे। ध्वजारोहण में पांच लोग शामिल होंगे। उधर, नौचंदी के राजेंद्र नगर स्थित श्रीबालाजी मंदिर के महंत मनीष स्वामी ने बताया कि मंदिर समिति के सीमित सदस्यों द्वारा ही परिसर में आयोजन किया जाएगा।

उधर, वेस्ट एंड रोड स्थित श्रीबालाजी संकट मोचन हनुमान शनिधाम मंदिर में इस बार कोई आयोजन नहीं हो रहा है। मंदिर के मुख्य पुजारी पीठाधीश्वर महामंडलेश्वर महंत महेंद्र दास महाराज ने बताया कि हनुमान जन्मोत्सव पर मंदिर में खाना बनाया जाएगा, जिसका वितरण श्रद्धालुओं को होगा।

भगवान महावीर जयंती पर घर-घर जलेंगे दीप: भगवान महावीर स्वामी वर्तमान चौबीसी के अंतिम तीर्थंकर की रविवार को जयंती है। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के चलते प्रदेश में शनिवार और रविवार को लाकडाउन है। ऐसे में शहर में धार्मिक स्थल और सामूहिक गतिविधियां भी बंद रहेंगी। पिछले करीब 80 साल से तीरगरान स्थित जैन मंदिर से निकलने वाली श्रीजी की रथयात्रा इस बार नहीं निकाली जाएगी।

सदर जैन समाज के प्रवक्ता विनेश कुमार जैन ने बताया कि श्री पा‌र्श्वनाथ दिगंबर जैन पंचायती मंदिर दुर्गाबाड़ी, सदर मेरठ से प्रत्येक वर्ष की भांति निकलने वाली महावीर जयंती की रथयात्रा पिछले वर्ष की तरह इस वर्ष भी निरस्त रहेगी। जैन समाज के लोगों से अनुरोध किया गया है कि अपने-अपने घर पर ही रहकर शुद्ध वस्त्रों में मुनिश्री प्रणम्य सागर महाराज द्वारा रचित श्री व‌र्द्धमान स्त्रोत का पाठ करें। साथ ही कोविड महामारी के समय विश्व के कल्याण व सुख शांति के लिए कामना करें।

भारतीय जैन मिलन के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुरेश जैन रितुराज ने बताया कि 25 अप्रैल को महावीर जयंती है। चूंकि इस दिन लाकडाउन भी रहेगा, ऐसे में इस बार कोरोना से सुरक्षा व बचाव के चलते तीरगरान मंदिर से रथयात्रा और पालकी यात्रा नहीं निकाली जाएगी। उन्होंने आह्वान किया कि सुबह एक घंटा परिवार संग घर पर महावीर का पूजन करें या 48 मिनट की सामयिकी करें। घरों को सजाकर उत्साह से पूजन व आरती करने की अपील की।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021