मेरठ, जेनएन। मोदीपुरम के दौराला थाना क्षेत्र के गांव रूहासा में 18 जनवरी को गोतस्करी के वांछित आरोपित को गिरफ्तार करने गई पुलिस टीम पर जानलेवा हमले के प्रकरण में नामजद दो महिलाओं को शुक्रवार को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। वहीं मुख्य आरोपित पुलिस को चकमा देकर गुरुवार को कोर्ट में सरेंडर कर जेल चला गया था। बाकी आरोपितों की तलाश में पुलिस दबिश दे रही है।

रूहासा गांव निवासी मुदस्सिर पुत्र बुंदू पर गोतस्करी और गोकुशी का केस दर्ज है। वांछित चल रहे मुदस्सिर को गिरफ्तार करने दौराला थाने के एसएसआइ महेंद्र सिंह और दादरी चौकी इंचार्ज सुखवीर सिंह पांच, छह अन्य पुलिसकर्मियों को दो गाड़ियों में लेकर रूहासा पहुंच गए थे। मुदस्सिर को पुलिस ने गिरफ्तार कर भी लिया, मगर उसके स्वजन और ग्रामीणों ने पुलिस पर पथराव कर उसे छुड़ाकर भगा दिया था। इस दौरान हवाई फायरिग करते हुए पुलिस टीम को लाठी-डंडों से पीटा भी गया था। पथराव से पुलिस की दोनों गाड़ियां क्षतिग्रस्त हो गई थीं। पुलिस ने 12 नामजद और आधा दर्जन से अधिक के खिलाफ गंभीर धाराओं में केस दर्ज किया था। नामजदों में शुक्रवार को पुलिस ने रूहासा कट के पास हाईवे से सईदा पत्नी अफजाल और फैजिया पत्नी मुदस्सिर को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया, जहां से दोनों को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। इंस्पेक्टर किरनपाल सिंह का कहना है कि तीन आरोपित जेल जा चुके हैं। फरार चल रहे अन्य आरोपितों को भी जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। बता दें कि यह मामला क्षेत्र में चर्चाओं का विषय बना हुआ है।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप