मेरठ, जेएनएन। कृषि कानूनों के विरोध में चल रहे आंदोलन के बीच सरकार के किसान कल्याण मिशन कार्यक्रम का आज अंतिम चरण है। आज यानि गुरुवार को मवाना व सरूरपुर ब्लाक में किसान कल्याण मिशन का आयोजन होगा। जिसमें कृषि प्रदर्शनी व मेला का आयोजन किया जाएगा। मुख्य अतिथि स्थानीय जनप्रतिनिधि होंगे। इससे पहले यह कार्यक्रम 6 जनवरी और 13 जनवरी को आयोजित हुआ।

सम्मान निधि व गन्ना भुगतान की शिकायतें

तहसील दिवस हो या अन्य कोई कृषि संबंधित कार्यक्रम, सभी प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि व गन्ना भुगतान की सबसे अधिक समस्याएं आती हैं। उप कृषि निदेशक मेरठ ब्रजेश चंद्रा ने बताया कि कृषि व कृषि आधारित अन्य गतिविधियों जिनमें पशुपालन, बागवानी व गन्ना आदि पर आधारित को विकसित करते हुए किसान कल्याण व किसान की आमदनी दोगुना करने का अभियान किसान कल्याण मिशन के रूप में चलाया गया है। 21 जनवरी को इसका अंतिम चरण है।

यह है योजना

विकास खंड स्तर पर प्रदर्शनी व कृषि मेला का आयोजन होगा। जिसमें कृषि विभाग के साथ मत्स्य, उद्यान, पशुपालन, रेशम, सहकारिता, सिंचाई विभाग, लघु सिंचाई, नेडा, विद्युत, ग्राम्य विकास, पंचायती राज, वन व बाल विकास आदि विभाग अपनी-अपनी योजनाओं से संबंधित स्टाल लगाएंगे और लाभार्थी परक योजनाओं के पुरस्कार व प्रमाण पत्र आदि भी स्वीकृत किए जाएंगे।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप