मेरठ : एक साल के अंदर मेरठ जनपद में एक लाख चार हजार लोगों को चूल्हे के धुएं से निजात मिली है। प्रधानमंत्री उज्जवला गैस योजना के अंतर्गत मेरठ में 52,940 उपभोक्ताओं को रसोई गैस कनेक्शन दिए गए। योजना के एक वर्ष पूरा हो जाने पर रविवार को तेल कंपनी अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

पीवीएस मॉल के पास चेतना गैस एजेंसी पर पत्रकार वार्ता हुई। कंपनी के सेल्स प्रबंधक पी. प्रकाशन ने बताया कि प्राथमिकता के आधार पर उज्ज्वला गैस कनेक्शन दिए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि उज्जवला के पहले वर्ष में 2.20 करोड़ से भी ज्यादा एलपीजी कनेक्शन दिए गए। वर्ष 2016-17 के लिए 1.5 करोड़ का लक्ष्य था, जबकि इस दौरान 3.25 करोड़ कनेक्शन अभी तक देशभर में दिए जा चुके हैं।

उज्ज्वला के नोडल अधिकारी व आइओसी के असिस्टेंट मैनेजर नितेश भारद्वाज ने बताया कि योजना के तहत 68109 लोगों ने आवेदन किए, जिसमें 52940 को कनेक्शन दिए जा चुके हैं। इसमें बीपीसी ने 24866, आइओसी ने 15874 व एचपीसी ने 12200 उज्जवला गैस कनेक्शन दिए। इस दौरान एचपीसी के एरिया सेल्स अफसर विपिन आनंद, वीर सिंह कर्दम, अजीत टंडन, पवन जैन, अजय रंधावा, ठाकुर लोकेश सिंह आदि उपस्थित रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस