मवाना (मेरठ) : अकबरपुर सादात गांव में सपा-बसपा समर्थकों में जमकर पथराव एवं फाय¨रग हुई। डीजे की आवाज कम करने को लेकर दोनों के समर्थक आपस में भिड़ गए। देखते ही देखते दोनों ओर से पथराव और फाय¨रग शुरू हो गई। घंटों की देरी से पहुंची पुलिस ने पूरा मामला दबा दिया। गांव में पुलिस बल तैनात कर दिया।

पूर्व मंत्री हाजी याकूब कुरैशी के बेटे इमरान कुरैशी सरधना से बसपा प्रत्याशी हैं। इसी विधानसभा से सपा के उम्मीदार अतुल प्रधान हैं। दोनों ही प्रत्याशियों का गांव में एक साथ कार्यक्रम था। इमरान का स्वागत समारोह पूर्व प्रधान नजरे के घेर में था। अतुल प्रधान का कार्यक्रम मौजूदा प्रधान कलीम के घेर में था। सोमवार शाम इमरान के स्वागत समारोह में डीजे बज रहा था तो अतुल के कार्यक्रम में रागिनी चल रही थी। दोनों ही मकान आमने सामने होने से डीजे की आवाज में रागिनी कार्यक्रम में व्यवधान हो रहा था। सपा समर्थकों ने हाजी इमरान के समारोह में बज रहे डीजे की आवाज को कम करने की मांग की। तभी प्रधान कलीम ने समर्थकों के साथ डीजे संचालक के साथ मारपीट शुरू कर दी। इसी बीच पूर्व प्रधान नजरे के समर्थक भी बड़ी संख्या में आ गए। दोनों ओर से लाठी डंडे चलने लगे। किसी ने भीड़ के बीच में पत्थर फेंक दिया। फिर दोनों ओर से पथराव और फाय¨रग शुरू हो गई। कंट्रोल रूम को सूचना देने के बाद एसओ बच्चन सिंह सिरोही घंटों की देरी से पहुंचे। पुलिस ने लाठी-डंडे चलाकर भीड़ को मौके से भगा दिया। आसपास के थानों से भी फोर्स बुला ली गई। पुलिस ने बीच बचाव कर दोनों पक्षों को शांत कर दिया।

इनका कहना है

सपा और बसपा के समर्थकों में मामूली कहासुनी हुई है। आपस में बैठकर मामले को निपटा दिया गया है। दोनों ओर से अभी तक कोई तहरीर नहीं मिली है। तहरीर मिलने पर मुकदमा दर्ज कर लिया जाएगा।

- बचन ¨सह सिरोही, एसओ बहसूमा।

कार्यक्रम में रागिनी चल रही थी। सभा को संबोधित करने के बाद मैं वहां से चला आया था। उसके बाद ही कोई मारपीट हुई होगी। जो हमारी जानकारी में नहीं है।

-अतुल प्रधान, सपा प्रत्याशी सरधना।

गांव में हमारा स्वागत समारोह था। सपा समर्थक कलीम प्रधान ने भीड़ जुट जाने के डर से अचानक ही रागिनी का कार्यक्रम रख लिया। डीजे को रोका गया और समर्थकों पर फाय¨रग कर दी। पुलिस को सूचना दी गई,लेकिन वह घंटों देर से पहुंची।

-इमरान कुरैशी, बसपा प्रत्याशी सरधना।