मेरठ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद यानी यूपी बोर्ड की वर्ष 2020 की बोर्ड परीक्षा में मेरठ परिक्षेत्र के 10,88,999 परीक्षार्थी आज से बोर्ड परीक्षा में शामिल होंगे। इनमें हाईस्कूल में 5,70,199 परीक्षार्थी और इंटरमीडिएट में 5,18,800 परीक्षार्थी पंजीकृत हैं। परीक्षा के पहले ही दिन 10वीं व 12वीं में हिंदी का पेपर है। हिंदी अनिवार्य विषय है। इस पेपर में अधिकतर बोर्ड परीक्षार्थी हिस्सा लेते हैं। सभी परीक्षा केंद्रों पर सीसीटीवी कैमरों की निगरानी सीधे जिला मुख्यालयों पर बने कंट्रोल रूम से की जाएगी। इसके अलावा प्रदेश स्तर पर बने कंट्रोल रूम से भी किसी भी समय प्रदेश के किसी भी परीक्षा केंद्र की लाइव तस्वीर देखी जा सकेगी। मेरठ में 86,605 परीक्षार्थी हिस्सा लेंगे। इस बाबत जिले में कुल 101 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं।

सोमवार को भी जारी हुए रोल नंबर और एडमिट कार्ड

बोर्ड परीक्षा में कोई योग्य छात्र छूट न जाए इसलिए सोमवार देर रात तक भी क्षेत्रीय बोर्ड कार्यालय से छात्रों के रोल नंबर व एडमिट कार्ड जारी किए गए। सोमवार को 42 बच्चे उच्च न्यायालय का आदेश लेकर क्षेत्रीय कार्यालय अपना रोलनंबर जनरेट कराने पहुंचे। इनमें 23 परीक्षार्थी मेरठ के ही हैं जबकि अन्य परीक्षार्थी परिक्षेत्र के अंतर्गत विभिन्न जिलों से आए। इनके अलावा क्षेत्रीय कार्यालय की ओर से किए गए जांच के बाद जो योग्य छात्र मिले उनके रोलनंबर भी सोमवार को जारी कर परीक्षा में शामिल होने की अनुमति प्रदान की गई। देर शाम ऐसे करीब 20 परीक्षार्थियों को रोलनंबर देकर परीक्षा में शामिल होने को कहा गया।

कक्ष निरीक्षकों का है टोटा

बोर्ड परीक्षा में कक्ष निरीक्षकों की कमी को दूर करने के लिए जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय में देर शाम तक शिक्षकों को ड्यूटी लगाई गई। जिले के 101 परीक्षा केंद्रों से लगातार कक्ष निरीक्षकों के रिपोर्ट न करने की सूचनाएं आती रही जिससे मंगलवार की परीक्षा के लिए कक्ष निरीक्षकों का इंतजाम किया गया। हंिदूी के पेपर में अधिकतर बोर्ड परीक्षार्थी होने के कारण कक्ष निरीक्षक भी अधिकतर संख्या में जरूरत होगी। ऐसे में जिले में बेसिक शिक्षा परिषद के शिक्षकों को भी कक्ष निरीक्षक ड्यूटी पर लगाया गया है।

चेक करते रहे स्कूलों के कैमरा फीड

राजकीय इंटर कॉलेज में बने कंट्रोल रूम में दिन भर सभी परीक्षा केंद्रों के सीसीटीवी कैमरों की लाइव फी¨डग की जांच की गई। कुछ केंद्र ऐसे हैं जिनके कैमरे की फीड समय-समय पर रुक जा रही है। ऐसे सभी स्कूलों को कैमरों को दुरस्त रखने को कहा गया है। कैमरों की लाइव फीड लेने के लिए नेटवर्क अब भी बड़ी समस्या बना हुआ है।

परीक्षार्थियों और परिजनों ने देखें केंद्र

सोमवार को विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर परीक्षार्थियों व परिजनों ने अपने परीक्षा केंद्र देखे। छात्रों ने केंद्र के साथ ही स्कूलों में चस्पा की गई रोल नंबर वार कमरों की स्थिति भी देखी जिससे मंगलवार सुबह केंद्र पर पहुंचने में कोई दिक्कत न हो।

कड़ी सुरक्षा में परीक्षा

बुलंदशहर में  पहले दिन पहली पाली में हाईस्कूल के विद्यार्थी हिंदी की परीक्षा देने के लिए पहुंचे। पहली पाली में सुबह 8 से 11:15 बजे तक परीक्षा होगी। जिलेभर में 97 परीक्षा केंद्रों पर कड़ी सुरक्षा में परीक्षा आयोजित हो रही है। केंद्रों पर पहुंचे परीक्षार्थी नोटिस बोर्ड पर लगे सीटिंग प्लान में अपना कक्ष देखने जुटे हैं। केंद्र व्यवस्थापक और कक्ष निरीक्षक पहुंच चुके हैं। परीक्षा के पहले दिन कुछ अभिभावक छात्र छात्राओं को खुद लेकर पहुंचे हैं। 

Posted By: Prem Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

जागरण अब टेलीग्राम पर उपलब्ध

Jagran.com को अब टेलीग्राम पर फॉलो करें और देश-दुनिया की घटनाएं real time में जानें।