मेरठ, जेएनएन। बलूचिस्तानी के रहने वाले निसार और अफरीदी की निशानदेही पर पुलिस ने 10 लाख का माल बरामद कर लिया है। पकड़े गए आरोपित बलूचिस्तानी से जौनपुर आने के बाद से ठगी की वारदात को अंजाम दे रहे थे। उधर, व्यापारियों ने ऐलान किया कि ठगों को पकड़ने वाले पुलिसकर्मियों को 51 हजार की रकम दी जाएगी।

400 ग्राम सोना लूटा था

24 अक्टूबर को रेलवे स्टेशन के पास सर्राफ सुरेश चंद से दोनों ठगों ने चेकिंग के नाम पर 400 ग्राम सोना लूट लिया था। उस घटना में दोनों ठग सीसीटीवी में कैद हो गए थे। तभी पुलिस और व्यापारियों ने दोनों के पोस्टर शहर के प्रमुख चौराहों पर लगा दिए थे। व्यापारियों ने उसकी धरपकड़ करने वालों को 51 हजार इनाम देने की घोषणा कर दी।

दोबारा पहुंचे ठगी करने

16 जनवरी को फिर से दोनों ठगी करने सराफा बाजार में पहुंच गए, जहां पुलिसकर्मियों ने पीछा कर दबोचा। उसके बाद व्यापारियों ने उनकी पिटाई कर दी। पकड़े गए दोनों आरोपित फरुखाबाद के ठंडी सड़क मेहंदी बाग के रहने वाले निसार (48)और अफरीदी (28) है। दोनों ने 50 से भी ज्यादा ठगी की वारदात कबूल की है।

सीओ और एसओ ने यह बताया

सीओ कोतवाली दिनेश शुक्ला ने बताया कि दोनों सड़क किनार झुग्गी डालकर फरुखाबाद में रहते है। उससे पहले बलूचिस्तानी से उनके दादा जौनपुर में आकर रहने लगे थे। एसओ देहलीगेट रवेंद्र कुमार ने बताया कि दोनों ठगों की निशानदेही पर पुलिस ने पांच लाख की ज्वेलरी और पांच लाख का माल बरामद किया है। शुक्रवार को इसकी प्रेस कांफ्रेंस करेंगे। 

Posted By: Prem Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस