जागरण संवाददाता मऊ : भीषण गलन, शीतलहर और ठंड का मारक प्रहार जारी है। कई दिनों के बाद सोमवार की सुबह 11 बजे के बाद धूप तो निकल आई मगर बर्फीली हवाओं के आगे वह बेअसर ही रही। हाल यह कि जो तापमान एक दिन पहले अधिकतम 19 था, धूप निकलने के बाद भी वह 14 से ऊपर नहीं चढ़ सका। हां न्यूनतम तापमान में जरूर एक डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी रिकार्ड की गई और यह तीन से चार तक जा पहुंचा। इस बीच ठंड ने दो और जानें लील लीं। मधुबन थाना क्षेत्र के हैबतपुर में 50 वर्षीय भोला की ठंड लगने से मौत हो गई तो कोपागंज थाना क्षेत्र के भदसा मानोपुर की चौहान बस्ती में 18 वर्षीय युवक जयराम चौहान पुत्र श्रीराम चौहान ने ठंड लगने से दम तोड़ दिया।

कई दिनों से चल रहे कोहरे से सोमवार को लोगों को आराम तो मिला लेकिन गलन में कोई कमी नहीं आई। सुबह करीब 11 बजे भगवान भाष्कर अपने तेज रूप में प्रकट हुए तो लोगों को लगा कि आज कड़ाके की ठंड से कुछ राहत मिल सकती है। लोगों को राहत तो मिली पर फौरी तौर पर ही। सूर्य देव के निकलने के साथ ही पछुआ हवा ने अपनी रफ्तार को और गति दे दी। इससे गलन और भी अधिक बढ़ गई। गलन का आलम यह था कि रविवार को जहां सूर्यदेव कोहरे के आगोश में थे तो अधिकतम पारा अधिकतम 19 डिग्री और न्यूनतम पारा 03 डिग्री था। वहीं सोमवार को जबकि सूर्यदेव निकले तो अधिकतम तापमान बस 15 डिग्री तक ही चढ़ सका था। हां, न्यूनतम तापमान जरूर रविवार को 03 डिग्री सेंटीग्रेट था, इसमें सोमवार को 01 डिग्री की बढ़ोतरी हुई और चार तक जा पहुंचा। सुबह में धूप को देखकर लोग घरों से तो निकले मगर हवा और गलन ने लोगों को बहुत सताया और शाम होने के पहले ही पूरे दिन जाम रही सड़कें सूनी पड़ गईं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस